वैश्विक पटल पर महामारी का रूप ले चुका कोविड-19 का संकट भारत पर लगातार गहरा रहा है. भारत में अबतक कोरोनावाइरस के 415 मामले सामने आ चुके हैं. इस बात से तो शायद सभी सरोकार रखते हैं कि भारत में यदि जल्द से जल्द इसे रोकने के मजबूत कदम नहीं उठाए गए तो यह महामारी जंगल में आग की तरफ फैलते हुए भारत के विनाश का कारण बन जाएगी. हैरानी की बात यह भी है कि दुनिया के दूसरे सब से अधिक जनसंख्या वाले देश में कोविड-19 के अबतक इतने कम केसेस कैसे हैं, तो इस का सब से बड़ा कारण भारत में इस के टेस्ट की सही सुविधा का न होना है. भारत की 1.3 बिलियन की आबादी जिन में गरीबी, खराब स्वास्थ्य सुविधाएं, ट्रस्ट आधारिक संरचना विद्यमान है, उस में इस खतरनाक वायरस का फैलना किसी तबाही से कम न होगा. बावजूद इस के वीरवार शाम 8 बजे अपने प्राइम टाइम में प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों को ताली और थाली का मंत्र पकड़ा दिया जबकि जरूरत उन्हें वायरस से लड़ने के लिए देश की आर्थिक मजबूती और भौतिक संसाधनों के विषय में बात करने की थी.

Digital Plans
Print + Digital Plans

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT