जैसे एक्वायर्ड इम्यूनो डेफिशिएंसी सिंड्रोम यानी एआईडीएस (एड्स) फैलाने वाले एचआईवी यानी ह्यूमन इम्यूनोडेफिशिएंसी वायरस को खत्म नहीं किया जा सका है वैसे ही, शायद, कोविड-19 बीमारी फैलाने वाले नोवल कोरोनावायरस को दुनिया से सफाचट नहीं किया जा सकता. वैज्ञानिकों के मुताबिक, यह वायरस फैलता तो तेजी से है लेकिन इसके चलते होने वाली मृत्युदर बहुत कम है, 2 फीसदी तक. दरअसल, यह वायरस बहुत ही कमजोर है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT