बिहार के पटना शहर की रहने वाली छवि पांडेय मध्यमवर्गीय परिवार में पली बढी थीं. छवि के पापा पटना में म्युजिक स्कूल चलाते हैं और उनकी मम्मी रेडियों सिंगर हैं. ऐसे परिवारों में लोग लड़कियों से केवल इतनी ही चाहत रखते हैं कि वह पढ़ लिखकर नौकरी कर ले इसके बाद उनकी शादी हो जाये. कई बार तो 18-19 साल में ही शादी कर दी जाती है. ऐसे में लड़कियां अपने मांबाप के कहे पर चल भर लेती हैं अपने सपने पूरे करने की तो वह सोंच भी नहीं सकती. छवि पांडेय खुद भी ऐसे ही परिवार की थीं. उनकी बड़ी बहन की शादी इसी उम्र में हो चुकी थी. छवि को गाना गाने का शौक था. छवि ने रियल्टी शो इंडियाज गौट टैलेंटम्यूजिक शो में हिस्सा लिया. यहां उनके हुनर को देखकर अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे ने कहा वह बहुत सुदंर हैं. उन्हें गाने के साथ एक्टिंग में अपनी रूचि दिखानी चाहिये. यही वह दौर था जब छवि के गाने से खुश होकर उस समय के रेलमंत्री लालू प्रसाद यादव ने छवि को रेलवे में नौकरी दे दी थी.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT