रेटिंगः तीन स्टार

निर्माताः बिपिन नाडकर्णी और योगेश  बेल्डर

निर्देशकः बिपिन नाडकर्णी

कलाकारः शारिब हाशमी, शरद केलकर,  हर्ष छाया, रसिका दुग्गल, फ्लोरा सैनी, सुनीता सेन गुप्ता व अन्य.

अवधिः एक घंटा 28 मिनट

ओटीटी प्लेटफार्मः जी 5

रवींद्र नाथ टैगोर की एक लघु कहानी पर 1960 में बंगला फिल्म ‘‘खोकाबाबू प्रत्यावर्तन’’बनी थी, उसी पर मराठी भाषी फिल्म के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजे जा चुके फिल्मकार बिपिन नाडकर्णी हिंदी फिल्म ‘‘दरबान’’लेकर आए हैं, जिसमें कई मनोवैज्ञानिक व समाजशास्त्रीय सवाल अनुत्तरित रह गए हैं. पर रिश्तों के भावनात्मक पक्ष के साथ नौकर आखिर सेवा करने के लिए बना होता है, इस बात को रेखांकित करने वाली कहानी बनकर रह गयी है. यह कहानी उस इंसान की है, जो कि  रिश्तों के लिए अपनी भावनाओं का त्याग करता है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT