आज की भागतीदौड़ती जिंदगी ने लोगों के चेहरों से हंसी छीन ली है और उन्हें दुख, निराशा व तनाव ने घेर लिया है. पर क्या आप जानते हैं कि इन सब परेशानियों की एक ही दवा है और वह दवा है मुसकान.

खूबसूरत मुसकान खूबसूरती को भी बढ़ाती है और व्यक्तित्व भी निखारती है. सामान्य से सामान्य चेहरा भी एक खूबसूरत मुसकान से खिल उठता है. मुसकान स्वास्थ्य को भी बेहतर बनाती है. आप के आत्मविश्वास और मैत्रीपूर्ण व्यक्तित्व से भी लोगों को अवगत कराती है. मुसकान का यह खजाना हर किसी के पास होता है. बस जरूरत होती है इसे अपनाने की.

आइए, जानते हैं कि स्वस्थ रहने व तनाव से उबारने में मुसकान लोगों की किस तरह मदद करती है.

मनोचिकित्सक प्रांजलि मल्होत्रा का कहना है, ‘‘मुसकान रिश्तों को मजबूत बनाती है, क्योंकि कभीकभी राह चलता कोई अजनबी चेहरा भी जब हमें देख कर स्माइल देता है, तो उस से कोई रिश्ता न होते हुए भी एक अनकहा रिश्ता बन जाता है. लेकिन मुसकान तभी पूरी होती है जब वह दिल से शुरू हो कर आंखों से झलके और किसी के भी चेहरे पर रोशनी बन कर चमके.’’

मुसकान कैसीकैसी

मुसकान कैसी हो? मुसकान सच्ची और मन से हो. मुसकराहट का हमारे विचारों और भावनाओं से गहरा रिश्ता होता है. हमेशा दूसरों के अच्छे गुणों पर ध्यान दें. तब हमें उन्हें देख कर मुसकराने में कोई परेशानी नहीं होगी, क्योंकि यह सच्ची मुसकान होगी.

हमेशा मुसकराने से पहले सहज होने की कोशिश कीजिए वरना मुसकान नकली लगेगी. जब मुसकान मन से निकलेगी तो आंखों में चमक होगी और तब दूसरों को भी यह समझते देर नहीं लगेगी कि यह मुसकान सच्ची और मन से है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
COMMENT