गौरव धमीजा नाम का यह शख्स कार के पार्ट्स बेचने का काम करता था. साइट पर अपनेआप को एक हैंडसम पुरुष की तरह दिखाता था जिस की सालाना इनकम 25-30 लाख हो. इस व्यक्ति के खिलाफ पुलिस में शिकायत करने वाली महिला ने बताया कि इस शख्स ने रुउस के प्रोफाइल में रुचि दिखाई थी. महिला द्वारा स्वीकार करने पर धमीजा ने उस से अपने खाते में पैसे डलवाए. फिर धमीजा ने महिला को भावनाओं के जाल में फंसाया और कहा कि वह अपनी पत्नी से पीड़ित है. साथ ही वादा किया कि वह उसे महंगे तोहफे देगा.'

जब पीड़िता पूरी तरह धमीजा के झांसे में फंस गई तो इस ने अलगअलग बहाने कर महिला से पैसे मांगने शुरू कर दिए. मसलन मातापिता का इलाज, व्यवसाय में निवेश और अन्य बहाने. इस तरह वह महिला को लम्बे समय तक ठगता रहा.

वस्तुतः एक आदर्श जीवनसाथी की कामना करना एक बात है और वास्तव में उसे ढूंढना एक मुश्किल काम है. आज के समय में जब लड़कियां पढ़लिख कर जॉब करती हैं और आत्मनिर्भर बन जाती हैं तो रिश्तेदारियों में लड़का खोजने के बजाय वे वैवाहिक साइटस की तरफ रुख करती हैं जहाँ अपने हिसाब से जीवनसाथी तलाश कर सकें. पर इस तरह की साइट्स पर भी अक्सर धोखाधड़ी के मामले आते रहते हैं.

ये भी पढ़ें- अगर आपको भी पसंद नहीं पार्टनर की आदतें तो अपनाए ये टिप्स

कुछ धोखेबाज औनलाइन वैवाहिक साइटों पर लोगों को धोखा देते हैं. वे नकली प्रोफाइल बना कर जीवनसाथी की तलाश करने वाले निर्दोष लोगों को धोखा दे कर अपना उल्लू सीधा करते हैं. पिछले साल फ्रौडस्टर तन्मय गोस्वामी के मामले ने भी मीडिया का ध्यान खींचा था क्यों कि विभिन्न शहरों की 8 महिलाओं ने शादी का वादा कर के पैसे की धोखाधड़ी करने के लिए इस शख्स के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी. पुलिस का अनुमान है कि उस ने उन से कम से कम 1.25 करोड़ रुपये ठग लिये थे. इस तरह की घटनाएं न केवल किसी व्यक्ति को आर्थिक रूप से प्रभावित करती हैं बल्कि गंभीर भावनात्मक क्षति भी पहुंचा सकती हैं. जरुरी है कि ब्लैकमेलिंग और धोखाधड़ी से बचने के लिए आप सजग हो कर ही कदम आगे बढ़ाएं. अल्ट्रा रिच मैच के संस्थापक-निदेशक सौरभ गोस्वामी के मुताबिक़ कुछ बुनियादी उपायों पर ध्यान दे कर आप ऐसी धोखाधड़ी से बच सकती हैं;

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
 
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
 
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...