जब तक 2 इंसान अकेले होते हैं वे अजनबी कहलाते हैं. फिर जब इन अजनबियों में जान-पहचान होती है, तो यह परिचय कहलाता है. धीरेधीरे परिचय दोस्ती की ओर कदम बढ़ाता है. फिर जब घनिष्टता बढ़ कर प्रगाढ़ हो जाती है तब इस घनिष्टता को संबंध में बदलने के वादे किए जाते हैं. लेकिन दोस्ती तक तो काफी कुछ सहन और नजरअंदाज किया जा सकता है, लेकिन जब बात इस सीमा को लांघ कर पतिपत्नी बनने की दहलीज पर आ रुके तो बहुत से गंभीर निर्णय लेने पड़ते हैं. आइए, उन की चर्चा कर ली जाए.

Digital Plans
Print + Digital Plans

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT