भारत में एसिड अटैक का शिकार होने वाली लड़कियों और महिलाओं की कमी नहीं. लड़कियों के साथ इस तरह का व्यवहार करने वाले सामान्यतया सिरफिरे आशिक या गहरे दुश्मन होते हैं. मगर मुंबई में रहने वाली अनमोल रोड्रिगेज के साथ कुछ और ही हुआ.

उस समय वह केवल 2 महीने की थी. मां ने उसे अपनी गोद में लिटा रखा था. तभी उस के पिता ने एसिड फेंका. पिता का निशाना भले ही मां थी मगर अनमोल भी इस से बच नहीं सकी. उस की एक आंख चली गई और चेहरे के साथ शरीर के कुछ हिस्से भी झुलस गए. मां ने उसी वक्त दम तोड़ दिया मगर अनमोल का काफी समय तक अस्पताल में इलाज चला. ननिहाल वालों ने कुछ समय तो उस की जिम्मेदारी उठाई मगर फिर उसे लावारिस छोड़ दिया ऐसे में उसे एक अनाथालय में शरण मिली. अनाथालय में रहते हुए इलाज के साथ उस की पढ़ाई भी होने लगी.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT