दिल्ली की निकिता अपने तलाक के अनुभव को साझा करते हुए कहती हैं, ‘‘तलाक के बाद एकदम से लगा कि जिंदगी खत्म हो चुकी है. मेरा औफिस जाने का मन नहीं करता था, लोगों से बात करते हुए खुद को असहज महसूस करती थी. जब आप का तलाक होने वाला हो तो लोग बस आप से आप के संबंधों के बारे में ही पूछते हैं. इस से चिढ़ पैदा हो जाती है. मैं ने जौब छोड़ दी, पार्टियों में जाना बंद कर दिया, सोशल फंक्शन से बचने लगी. यहां तक कि अपने दोस्तों से भी बात करना छोड़ दिया. खुद को एक कमरे में बंद कर बीते दिनों के बारे सोचती रहती थी. कुछ समझ में नहीं आता था कि अब जिंदगी को पटरी पर कैसे लाऊं. मुझे इस स्थिति से निकलने में लंबा वक्त लगा.’’

Digital Plans
Print + Digital Plans

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
COMMENT