1. ब्लैक डेथ (1347-1353 )

14 वी शताब्दी में पूर्वी एशिया से उत्पन्न हुआ यह बीमारी काले जहाज पर काले चूहो पर सवार हो कर एक  महामारी के रूप यूरोप पहुंच. पुरे यूरोप में कोहराम मचा कर रख दिया. इस दौरान 7 करोड़ से 10 करोड़ लोगों की मौत हुई थी. यह महामारी अभी तक का सबसे भयानक कहा जाने वाला महामारी है . इसे ग्रेट प्‍लेग, ब्‍लैक प्‍लेग या ब्लैक डेथ के नाम से भी जाना जाता है. यह महामारी यूरोप में 1347-1353 के दौरान फैला और  यूरोप के मौत का इतिहास लिखते हुए बीत गया .

2. बुबोनिक प्लेग ( 1720 )

18 वी शताब्दी के शुरुआत में साल में ही 1720 फ्रांस कई शहरों में फैला प्लेग जल्द ही महामारी के रूप में बदल गई . फ्रांस के मार्सिले, पर्शिया और इजिप्ट शहर में इस बीमारी से 2 लाख लोग मरे गए . इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए कुल 100,000 लोगों की हत्या की गई. यह संख्या उस वक्त दुनिया की पूरी जनसंख्या का 20% हुआ करती थी. इसका खौफ इतना था कि लोग किसी भी चीज को छूने तक को भी घबराते थे.

ये भी पढ़ें- #coronavirus: कोरोनावायरस की ये 5 पहेलियां

3. तीसरा हैजा (1846–60)

19 शताब्दी के शुरुआत में यह बीमारी भारत से (1837 ) शुरू हुई और शताब्दी के मध्य ( 1863 ) बिट्रेन तक पहुंच कर ख़त्म हुआ .  एशिया से शुरू हुआ यह बीमारी महामारी बन कर यूरोप,अफ्रीका ,उत्‍तरी अमेरिका  के देशों में फ़ैल गई . करीब 1 लाख से अधिक लोग भारत में ही मरे गए .  रूस मे  करीब दस लाख लोगों की जान गई थी. तो अकेले ब्रिटेन में करीब 30 हजार लोगों की मौत हुई . अमेरिका में भी 5 हजार से अधिक लोग मरे गए. हैजा ने 18-19 वी शताब्दी में बहुत कोहराम मचाया, इसके कुल सात प्रकार हुए , जिसमें तीसरे प्रकार का हैजा ने बहुत अधिक कोहराम मचाया .

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT