ज्यादातर महिलाओं को अपनी स्किन टाइप का पता नहीं होता है. वे कोई भी फेसक्रीम चेहरे पर अप्लाई कर लेती हैं. मार्केट में कुछ नया आया या किसी नई क्रीम का विज्ञापन टीवी पर देखा नहीं कि खरीद लाईं और लगा ली. नतीजा स्किन दागधबों से भर जाती है, चेहरा कहीं सूखा तो कहीं तैलीय नजर आने लगता है, चेहरे पर झुर्रियां, झांइयां और कालापन दिखने लगता है.

अगर आप चाहती हैं कि आप की स्किन के साथ भी ऐसा न हो तो सब से पहले पता करें कि आप का स्किन टाइप क्या है. फिर उस के अनुसार ही कौस्मैटिक प्रोडक्ट्स का चयन करें. स्किन टाइप पता करना कोई मुश्किल काम नहीं है. इस के लिए किसी स्किन के डाक्टर या फिर ब्यूटीशियन के पास जाने की भी जरूरत नहीं है. यह काम आप खुद बड़ी आसानी से कर सकती हैं. आइए, आप को बताते हैं कि अपना स्किन टाइप कैसे पता करें: स्किन का टाइप क्या है, यह जानने के लिए सब से पहले आप सुबह उठते ही अपने चेहरे को टिशू पेपर से पोंछें.

नौर्मल स्किन: अगर टिशू पेपर पर कोई दाग नजर नहीं आ रहा है यानी टिशू पेपर पहले की ही तरह साफ है, तो इस का मतलब आप की स्किन सामान्य यानी नौर्मल है.

औयली स्किन: टिशू पेपर से चेहरा पोंछने पर अगर टिशू पेपर पर तेल नजर आए तो इस का मतलब आप की स्किन तैलीय है. ऐसी स्किन में झुर्रियों या ऐजिंग की समस्या नहीं होती है. हां, पिंपल्स की परेशानी से जूझना पड़ सकता है.

ड्राई स्किन: अगर टिशू पेपर पर कोईर् दाग न हो, लेकिन स्किन खिंचीखिंची सी महसूस हो और चेहरे पर कोई ग्ला न हो तो इस का मतलब स्किन ड्राई है. रूखी स्किन में झुर्रियां तेजी से नजर आने लगती हैं.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT