खूबसूरती पाने के लिए आजकल लोग क्या कुछ नहीं करते. यही कारण है कि ब्यूटी वर्ल्ड में आए दिन नित नए ट्रेंड्स सामने आते रहते हैं. हाल ही में ऐसा ही एक नया ब्यूटी ट्रेंड आया है 'बर्ड पूप फेशियल'. यह फे​शियल भले ही अभी ट्रेंड में है, लेकिन यह सदियों से चीनी सौंदर्य का हिस्सा रहा है. ये भले ही आपको हैरान करें, पर यह सच्चाई है. क्या है बर्ड पूप फेशियल और क्या हैं इसके फायदे आइए जानते हैं.

https://www.instagram.com/reel/C8bxwu2MX1K/?utm_source=ig_web_copy_link&igsh=MzRlODBiNWFlZA==

 

अनोखा फेशियल

बर्ड पूप फेशियल यानी पक्षी की बीट या मल का फेशियल. जी हां, आप भले ही इसे पढ़कर अपना मुंह बनाएं, लेकिन यह सच्चाई है कि प्राचीन चीनी संस्कृति में बर्ड पूप फेशियल सदियों से किया जा रहा है. तांग राजवंश के शासन के दौरान इसे बड़े पैमाने पर उपयोग किया जाता था. इसे 'उगुइसू नो फन' कहा जाता है. यह अजीबोगरीब फेशियल असल में जापान से शुरू हुआ था, जो बाद में चीन में भी प्रचलित हो गया. दरअसल, जापानी और चीनी लोगों के अनुसार पक्षियों की बीट में स्किन को एक्सफोलिएट करने के गुण पाए जाते हैं. ऐसे में इससे स्किन पर चमक आती है.

कैसे करते हैं

अब सवाल ये है कि आखिर क्या हर पक्षी की बीट से आप फेशियल कर सकते हैं तो इसका जवाब है 'नहीं'. स्किन को एक्सफोलिएट करने का गुण हर पक्षी की बीट में नहीं होता है. इसके लिए खासतौर पर बुलबुल की बीट का उपयोग किया जाता है. चीनी स्किन केयर के अनुसार बुलबुल की बीट स्किन के लिए गुणकारी है. इसमें ऐसे कई गुण होते हैं, जिनसे स्किन ग्लोइंग बनती है. इसके लिए बुलबुल की बीट की कुछ बूंदों को चावल की भूसी में डाला जाता है. फिर जरूरत के अनुसार उसमें पानी डालकर एक पेस्ट तैयार किया जाता है. इसके बाद इस ब्राइटनिंग मास्क को चेहरे पर लगाया जाता है. जब यह मास्क अच्छे से सूख जाता है तो इसे नॉर्मल पानी से वॉश कर लिया जाता है. इस बीट में मौजूद शक्तिशाली एंजाइम डैड स्किन सेल्स को हटा देते हैं, जिससे स्किन पर चमक आ जाती है. इससे स्किन टाइट होती है, झुर्रियां दूर हो जाती हैं और फाइन लाइंस कम होती हैं.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
 
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
 
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...