सुंदर व स्टे्रट बालों की चाह में महिलाएं स्ट्रेटनिंग का सहारा लेती हैं. कोई शादी हो या फंक्शन, महिलाएं बालों पर स्ट्रेटनर चला कर स्ट्रेट बाल आसानी से पा लेती हैं. लेकिन बारबार ऐसा करने से बालों की सेहत पर इस का बुरा असर पड़ता है. आइए, जानते हैं स्ट्रेटनर बालों के लिए किस तरह नुकसानदायक है. स्ट्रेटनिंग करने से बालों से कुछ ऐसे कैमिकल्स रिलीज होते हैं, जिन से बाल डैमेज होने शुरू हो जाते हैं. उन में और कई सारी समस्याएं उत्पन्न होनी शुरू हो जाती हैं जैसे:

1. ड्राई हेयर

स्ट्रेटनिंग से बाल बहुत ज्यादा ड्राई हो जाते हैं. दरअसल, स्ट्रेटनर के इस्तेमाल से बालों का नैचुरल औयल खत्म हो जाता है, जिस से वे कमजोर और बेजान नजर आने लगते हैं. यदि आप ड्राई हेयर पर लगातार हीट का इस्तेमाल करेंगी तो ड्राइनैस के साथसाथ आप को हेयर फौल की समस्या भी शुरू हो जाएगी. इसलिए स्ट्रेटनर का लगातार इस्तेमाल करने से बचें.

ये भी पढ़ें- 5 टिप्स: जानिए कब और कितनी बार धोएं बाल

2. बालों में फ्रिजिनैस

बालों में स्ट्रेटनिंग का इस्तेमाल करने से वे ज्यादा बिखरे और उलझे नजर आते हैं. स्ट्रेटनिंग के बाद जब महिलाएं हेयर वाश करती हैं तो सीधे शैंपू का इस्तेमाल कर लेती हैं, लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए. हेयरस्टाइल बनाते समय हीट या कैमिकल का इस्तेमाल करते हैं तो हेयर वाश से पहले हलके गरम औयल की मसाज लेनी चाहिए और 15 मिनट तक स्टीमर का इस्तेमाल करना चाहिए. यदि स्टीमर नहीं है तो हौट टौवेल का भी इस्तेमाल कर सकती हैं. यह बालों को डैमेज होने से बचाता है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT