लड़कियां हमेशा लेटेस्ट फैशन ट्रेंड को फॉलो करती हैं चाहें फिर आउटफिट हो या हेयरस्टाइल. हेयरस्टाइल की बात करें तो ज्यादातर लड़कियां अपने आउटफिट के हिसाब से हेयरस्टाइल का चुनाव करती हैं.

बार-बार हेयरस्टाइल चेंज करने से बालों को नुकसान पहुंचता है खासकर स्ट्रेट करने से. लगातार स्ट्रेटनिंग करने से बाल टूटने शुरू हो जाते है. आज हम आपको स्ट्रेटनिंग करने के कुछ ऐसे नुकसान बताएंगे जिसके बाद आप अपने बाल स्ट्रेट करने से पहले एक बार जरूर सोचेंगी.

बालों की चमक

नियमित रुप से स्ट्रेटनिंग करने से बालों की प्राकृतिक चमक गायब हो जाती है. बाल रुखे और बेजान दिखाई देते हैं.

खुजली

स्ट्रेटनिंग करने से सिर की त्वचा पर बुरा असर पड़ता हैं. इसकी वजह से बालों के पोर्स खत्म हो जाते हैं जिससे बालों को मॉइश्चराइज करने के लिए पर्याप्त ऑयल नहीं मिलता. इससे बालों में खुजली जैसी समस्या पैदा हो जाती है. ऐसे में रोजाना स्ट्रेटनिंग करने से बचें.

जलन की समस्या

स्ट्रेटनिंग करने से फॉर्मलडिहाइड गैस निकलती है जो बालों को नुकसान पहुंचाती है. इसके अलावा इससे नाक, त्वचा, आंखों और फेफड़ों में जलन हो सकती है.

कमजोर बाल

रोजाना स्ट्रेटनर का इस्तेमाल करने से बाल झड़ने लगते है और कमजोर हो जाते है. इससे दोमुंहें बालों की समस्या उत्पन्न हो सकती है.

रुखे बालों की समस्या

स्ट्रेटनिंग करने से बाल रुखे हो जाते हैं. इसकी हीट से नैचुरल ऑयल खत्म हो जाता हैं जिससे बाल अनसुलझे हो जाते हैं.

COMMENT