48साल की उम्र में कालेज गोइंग स्टूडैंट जैसी फिट और आकर्षक फिगर वाली फिटनैस ऐक्सपर्ट और सैलिब्रिटी पर्सनल ट्रेनर यासमीन कराचीवाला ने 26 साल पहले मुंबई में काम शुरू किया था. बौडी इमेज नाम से यासमीन ने फिटनैस सैंटर की नींव रखी. हाल ही में दिल्ली में इस की एक और ब्रांच लौंच की गई. पेश हैं, इस मौके पर उन से की गई बातचीत के कुछ अंश:

आप की नजर में फिटनैस क्या है?

फिटनैस वह है जो आप को एनर्जेटिक फील कराए. जब आप सुबह उठें तो बिलकुल फ्रैश हो कर उठें. आप अपना पूरा दिन आसानी से कंप्लीट कर सकें. दोपहर को भी नींद या आलस न आए. हमेशा एनर्जेटिक फील हो. रात को ऐसे सोएं जैसे घोडे़ बेच कर सो रहे हों तो समझिए आप फिट हैं.

अपनी बायोपिक में टाइगर को देखना चाहता हूं- जैकी श्रौफ

महिलाओं को अपनी फिटनेस के लिए कौन सी बेसिक बातों का खयाल रखना चाहिए?

आप अपने लिए ऐसी ऐक्सरसाइज चुनें जो आप की बौडी के लिए उपयुक्त हो और जो आप को अच्छी लगती हो. जरूरी नहीं कि जो और कर रही हो वही आप के लिए भी अच्छी होगी. पुरुषों के मुकाबले महिलाओं की बोन डैंसिटी कम होती है. महिलाएं बच्चों को जन्म देती हैं और इस दौरान उन की बौडी को अंदर से स्ट्रैस सहना पड़ता है. इसलिए बहुत जरूरी है कि वे स्ट्रैंथ ट्रेनिंग करें. अपनी बोंस मजबूत करें. पुरुषों की हड्डियां महिलाओं की हड्डियों के मुकाबले बहुत मजबूत होती हैं. उन का स्केलेटन स्ट्रक्चर ही ऐसा होता है, जबकि महिलाओं का स्केलेटन स्ट्रक्चर काफी अलग होता है. उन के लिए वेट ट्रेनिंग जरूरी होती है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT