रेटिंगः तीन स्टार

निर्माताः एक्सेल इंटरटेनमेंट व मकगफिन पिक्चर्स

निर्देशकः हितेश भाटिया

कलाकारः स्व.  ऋषि कपूर,  परेश रावल, जुही चावला, सतीश कौशिक,  गुफी पेंटल, सुहेल नय्यर, तरन बजाज,  विकास मोहला, शुभंकर त्रिपाठी, इशा तलवार, आकाशदीप साबिर, संजय कोटा व अन्य.

अवधिः दो घंटे

ओटीटी प्लेटफार्मः अमेजॉन प्राइम वीडियो

भारतीय सिनेमा जगत के सर्वाधिक लोकप्रिय अभिनेता ऋषि  कपूर (1952 से 2022) हर फिल्म में अपने अभिनय की अमिट छाप छोड़ते रहे. उनके अभिनय से सजी यह उनकी अंतिम फिल्म है, जिसकी शूटिंग के दौरान  उनका निधन हो गया. उसके बाद इस फिल्म को पूरा करने की जिम्मेदारी निभाते हुए उसी किरदार को परेश रावल ने निभाया. मगर फिल्म पुनः नही फिल्मायी गयी. बल्कि एक अनूठा प्रयोग किया गया. इस प्रयोग के तहत जिन दृश्यों को ऋषि कपूर नहीं फिल्माया जा सका था, सिर्फ उन्ही दृश्यांे को परेश रावल पर फिल्माया गया. मगर फिल्म देखते समय ऋषि कपूर की अनुपस्थिति के ेचलते कुछ हलके झटके लगते हैं, मगर मनोरंजन में कमी नही आने पाती. फिल्म वास्तव में खट्टी मीठी व नमकीन है. अवकाश प्राप्त पिता द्वारा अपने बेटे के अहसास दिलाने के संघर्ष कि वह घर में पड़े हुए फर्नीचर मात्र नही है को फिल्म में बाखूबी पेश किया गया है.

ये भी पढ़ें- Anupamaa की तरह ये Celebs भी कर चुके हैं बड़ी उम्र में से शादी

कहानीः

दिल्ली में मधुबन होम अप्लाइसेंस में कार्यरत ब्रज गोपाल शर्मा जी(स्व.  ऋषि कपूर और परेश रावल ) को जबरन वीआर एस देकर अवकाश ग्रहण करा दिया जाता है. शर्मा जी को भ्रम है कि कंपनी के एम डी सिक्का(दीपक कृपलानी) उनकी कद्र करते हैं. शर्मा जी की पत्नी सुमन का देहांत हो चुका हैं.  घर मंे दो बेटे संदीप शर्मा उर्फ रिंकू (सुहेल नय्यर ) और विंसी( तारूक रैना ) है. रिंकू किसी कंपनी में नौकरी कर रहा है और उर्मी (इशा तलवार )से रोमांस फरमा रहा है और जल्द शादी करने की योजना है. शादी के बाद अलग रहने के लिए रिंकू ने शर्मा जी से छिपाकर पंद्रह लाख रूपए देकर गुड़गांव में बिल्डर जैन(आकाशदीप शाबिर ) द्वारा बनाई जा रही इमारतो में से एक इमारत में एक फल्ैट बुक कर लिया है. छोटा बेटा विंशी बीकाम की पढ़ाई कर रहा है. दोनो बेटे अपने आप में मस्त हैं. खाना बनाने से लेकर बिजली का बिल भरने तक घर के सभी काम शर्मा जी खुद ही करते हैं.  उन्हे घर पर खाली बैठना पसंद नही. वह कई तरह के काम करने की योजना बनाते हैं, मगर हर बार रिंकू को तकलीफ है कि लोग क्या कहेंगे. किसी अन्य कंपनी में उन्हें नौकरी नही मिलती, क्योकि वहां पर युवा पीढ़ी का कब्जा है. फिर शर्मा जी अपने दोस्त चड्ढा (सतीश कौशिक) के कहने पर औरतांे की किट्टी पार्टी के दिन उनके घर जाकर खाना बनाने लगते हैं. इसी दौरान उनकी दोस्ती वीना(जुही चावला )  से हो जाती है. वीना के कहने पर वह महापौर रॉबी के यहां पार्टी में भी खाना बनाते हैं. इस तरह शर्मा जी काफी खुशहाल जिंदगी जीने लगते हैं. पर जब यह राज उनके बेटों के सामने आता है, तो रिंकू को यह बात पसंद नहीं आती. उधर बिल्डर की तरफ से रिंकू को फ्लैट का कब्जा नही मिल रहा, पता चलता है कि उसने जंगल की सरकारी जमीन पर इमारतें खड़ी कर दी हैं. फिर कहानी कई मोड़ लेती है और सुखद मोड़ पर खत्म होती है.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

गृहशोभा डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...