फैंसी ब्रा, लेस वाली पैंटी देख कौन महिला अट्रैक्ट नहीं होगी, क्योंकि आज महिलाएं सिर्फ अपनी आउटर पर्सनैलिटी को ही नहीं निखारती, बल्कि इनर पर्सनैलिटी पर भी खास ध्यान देती हैं. दें भी क्यों न, क्योंकि लौंजरी न सिर्फ कौन्फिडैंस बढ़ाती है, बल्कि आउटफिट्स की रौनक को भी बढ़ाने का काम करती है. मगर कई बार महिलाएं लौंजरी के स्टाइल को देख कर या फिर सस्ते के चक्कर में कुछ भी खरीद लेती हैं, जिसे पहन न तो खुद को फ्री फील करती हैं और न ही हैल्थ के लिहाज से वह सही होता है. पर आज हम आपको लेडिज कौमन मिस्टेक्स के बारे में बताएंगे, जो आपकी हेल्थ पर भी असर डालती है.

1. शेपवियर पहनने में गलती

कुछ महिलाएं देखा-देखी परफैक्ट लुक पाने के लिए शेपवियर का छोटा साइज खरीद लेती हैं, जो बौडी को नुकसान पहुंचाता है, क्योंकि हम जब भी ज्यादा टाइट अंडरगारमैंट्स पहनते हैं, तो ब्लड ठीक ढंग से फ्लो नहीं हो पाता, जो धीरे-धीरे हमें बीमार ही करता है. इसलिए हमेशा अपने साइज का शेपवियर ही पहनें.

ये भी पढ़ें- हड्डियां मजबूत बनाने के लिए फौलो करें ये 9 टिप्स

2. ब्रा उतारने की आदत

अकसर महिलाएं जब घर पर होती हैं तो खुद को रिलैक्स फील कराने के लिए ब्रा को उतारना ही बेहतर समझती हैं, जबकि ऐसा करने से ब्रैस्ट धीरे-धीरे अपना आकार खोने लगती है, जो शेप को बिगाड़ने का काम करती है. ऐसे में ब्रा को उतारने से बेहतर है कि आप स्पोर्ट्स ब्रा पहनें, जो हलकी होने के साथ-साथ आप को कंफर्ट भी देगी और फिगर भी खराब नहीं होगी.

3. ब्रा साइज चुनने में मिस्टेक

कुछ महिलाएं सोचती हैं कि अगर वे छोटे साइज की ब्रा पहनेंगी तो उनकी ब्रैस्ट ज्यादा उभरी हुई दिखाई देगी, जबकि इस से ब्लड फ्लो ठीक से नहीं होता. ऐसे ही बड़े साइज की ब्रा पहनने से न तो फिटिंग सही आती है और साथ ही इससे बैक पेन की भी प्रौब्लम हो जाती है. इसलिए अगर आप अपनी ब्रैस्ट को बड़ा दिखाना चाहती हैं, तो पुशअप या पैडेड ब्रा यूज करें.

4. घटिया फैब्रिक का चयन

अधिकांश महिलाओं को सिर्फ स्टाइल देख कर ही ब्रा खरीदने की आदत होती है, जबकि उस के मैटीरियल का भी ध्यान रखना जरूरी है. खराब मैटीरियल के गारमैंट्स शरीर पर रैशेज, ऐलर्जी जैसी प्रौब्लम खड़ी कर सकते हैं. बैस्ट औप्शन यही होगा कि आप 80% कौटन और 20% ऐलास्टेन फैब्रिक के कपड़े पहनें, क्योंकि ये ज्यादा आरामदायक होने के साथसाथ जल्दी फटते भी नहीं हैं.

5. थौंग्स से स्किन इरीटेशन

बहुत सारी महिलाएं छोटी पैंटी पहनना पसंद करती हैं, क्योंकि वह अच्छा लुक देने के साथ-साथ कपड़ों में से दिखती भी नहीं है, जबकि वे इस बात से अनजान रहती हैं कि अधिकांश थौंग्स सिंथैटिक की बनी होते हैं, जिस से सैंसिटिव स्किन में इरीटेशन पैदा होने से बैक्टीरिया आसानी से पनप जाता है.

ये भी पढ़ें- पीरियड्स के दिनों में रखें सफाई का खास ख्याल

6. मैचिंग इग्नोर

हमारे अंडरगारमैंट्स कौन देखने वाला है, यह सोच कर महिलाएं किसी भी कलर का अंडरगारमैंट पहन लेती हैं, जो उन्हें भद्दा लुक देने का काम करता है. अगर आप खुद को एलिगैंट लुक देना चाहती हैं, तो ब्रा व पैंटी मैंचिंग ही पहनें या फिर मिलता-जुलता कलर ट्राई करें.

7. बौडी टाइप इग्नोर

बिना अपने बौडी टाइप को देखे अकसर महिलाएं अंडरगारमैंट्स खरीद लेती हैं, जो उन्हें कंफर्ट फील नहीं कराते. आप ऐसा न करें, बल्कि अपनी बौडी शेप को ध्यान में रखें. जैसे अगर आप की पीयर बौडी शेप है यानी आप का हिप एरिया बस्ट एरिया से बड़ा है, तो आप सिंपल शौर्ट्स या लेस शौर्ट्स पहनें. अगर आप का कर्व बौडी शेप है, तो आप हाई राइज पैंटी पहनें, जो आप को परफैक्ट लुक देगी व कंफर्ट फील कराएगी.

8. सस्ते का लालच

कई बार महिलाएं अट्रैक्टिव स्टाइल्स को सस्ते दाम में देख कर तुरंत कई ब्रा व पैंटी खरीद लेती हैं. ऐसा करना ठीक नहीं, क्योंकि ये आप की स्किन को नुकसान ही पहुंचाने का काम करेंगी. इसलिए लालच मेंन फंसें.

ये भी पढ़ें- अपने बच्चों को डिप्रेशन से ऐसे बचाएं

9. रैग्युलर चेंज की आदत नहीं

अधिकांश महिलाओं को डेली अंडरगारमैंट्स बदलने की आदत नहीं होती. वे एक ही अंडरगारमैंट को 2-2, 3-3 दिन पहने रहती हैं, जिस से न सिर्फ उन के शरीर से दुर्गंध आती है, बल्कि उन्हें इन्फैक्शन होने का भी डर बना रहता है. इसलिए आप अपने पास 5-6 अंडरगारमैंट्स जरूर रखें, ताकि रोज चेंज कर सकें. गरमियों में तो दिन में 2 बार इन्हें जरूर बदलें.

Tags:
COMMENT