अगर आप एसिडिटी या मोटापे की समस्या से जूझ रहे हैं और आपको किसी भी काम में मन लगाने में परेशानी हो रही है तो हो सकता है कि इसकी वजह आपका सुबह का नाश्ता न लेने की आदत हो. 'ब्रेन फूड' कहा जाने वाला सुबह का नाश्ता दिनभर का सबसे जरूरी आहार है.

मैट्रो सिटीज में रहने वाले ज्यादातर लोग अपनी व्यस्ततम जीवनशैली की वजह से सुबह के नाश्ते को नजरअंदाज कर देते हैं. इसका एक दूसरा कारण ये भी माना जाता है कि कुछ लोग सोचते हैं कि नाश्ता न लेने से छरहरी काया हासिल की जा सकती है. वजह जो भी हो लेकिन विशेषज्ञों का मानना है कि इससे लोगों में मोटापे की शिकायत हो सकती है.

बत्रा अस्पताल की मुख्य आहार विशेषज्ञ अनीता जटाना का कहना है, "ऐसा लगता है कि इन दिनों लोगों के पास सुबह के नाश्ते के लिए समय नहीं है. उनके पास पौष्टिक नाश्ता करने की स्वस्थ परंपरा से बचने के ढेरों कारण मौजूद हैं."वह इसे धारणा और जीवनशैली में बदलाव मानती हैं. उनका कहना है, "लोग कई वजहों से सुबह का नाश्ता नहीं करते. इनमें व्यस्तता, रात में देर से भोजन करना, खुद को छरहरा बनाने सहित जैसी मुख्य वजहें शामिल हैं. इस तरह से वह अच्छे स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी सुबह के नाश्ते से दूर रहते हैं."

आहार विशेषज्ञों के मुताबिक सुबह का नाश्ता बहुत जरूरी है. वे कहते हैं कि नाश्ता संतुलित होना चाहिए और इसमें कैल्शियम (दूध या दूध से वस्तुएं), प्रोटीन, रेशेदार पदार्थ (अंकुरित अनाज) और एंटीऑक्सीडेंट्स (सेब, स्ट्रॉबेरी, केला, संतरा) और विटामिन होने चाहिए.

मैक्स अस्पताल की मुख्य आहार विशेषज्ञ ऋतिका सामादार कहती हैं, "प्राय: ब्रेन फूड कहे जाने वाले सुबह के नाश्ते का संपूर्ण होना आवश्यक है और इसमें शरीर के लिए जरूरी सभी पोषक तत्व होने चाहिए."

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
COMMENT