महिलाओं में हेयरफौल की समस्या बेहद आम है. इसका ट्रीटमेंट कराने में काफी पैसा बर्बाद हो जाता है. इन आर्टिफीशियल तरीकों से बेहतर है कि आप प्राकृतिक उपायों की ओर बढ़ें. इस खबर में हम आपको कुछ आसान तरीकों के बारे में बताएंगे, जिससे आप अपनी इस समस्या का इलाज कर सकेंगी.

करें हौट आयल ट्रीटमेंट

जैतून, नारियल या कनोला जैसे प्राकृतिक तेल का इस्तेमाल करें. प्रयोग करने से पहले इसे थोड़ा गर्म कर लें. ध्यान रखें कि तेल ज्यादा गर्म ना हो. इसे बालों की जड़ों तक मसाज करें. एक बार लगा कर इसे घंटे, दो घंटे के लिए छोड़ दें. इसके बाद बालों को शैंपू से धो लें.

एंटीऔक्सिडेंट

एक कप गर्म पानी में ग्रीन टी के दो बैग डालकर उसका अर्क निकाल लें. इसके बाद पानी को बालों की जड़ों तक लगा लें. करीब एक घंटे तक ऐसे रहने दें. फिर धो लें. आपको बता दें कि ग्रीन टी में एंटीऔक्सिडेंट होते हैं, जिससे हेयरफौल की समस्या कम होती है. बालों को बढने में भी ये काफी ज्यादा सहायक होते हैं.

कराएं हेड मसाज

अक्सर हेड मसाज लिया करें. इससे सिर में खून का बहाव सही रहता है. रक्त का सही बहाव होने से बाल मजबूत होते हैं. प्राकृतिक तेल से मसाज लेना आपकी बालों के लिए काफी लाभकारी है. ये आपके तनाव में भी काफी लाभकारी है.

प्राकृतिक जूस

लहसुन, प्याज या अदरक के जूस से मालिश हेयरफौल में काफी लाभकारी है. रात में इसे लगाएं और सुबह में धो लें. इससे आपके बाल मजबूत होंगे.

 

Tags:
COMMENT