एक फिल्म में अभिनेता राजकुमार का डायलॉग बहुत प्रसिद्ध है, ‘’इतने हसींन पॉव जमीन पर मत रखिए मैले हो जाएंगें.’’ जब इतने हसीन पॉवों में पायल की रुनझुन सुनाई देती है तो उनकी खूबसूरती और अधिक बढ जाती है. अंग्रेजी में एंकलेट कही जाने वाली पायल महिलाओं के पैरों में चार चांद लगा देती है. नयी नवेली दुल्हन के पैरों में भारी और चौड़ी पायल सजती है तो रोज की दिनचर्या में महिलाएं हल्की फुल्की कम वजन की पायल पहनना पसंद करतीं हैं. पहले जहां केवल चांदी और सोने की पायल ही प्रचलन में होती थी वहीं वर्तमान समय में सोने चांदी के साथ साथ कुंदन, मोती, और नग की फैशनेबल डिजायन वाली पायल बाजार में हर रेंज में उपलब्ध हैं.

कैसी कैसी पायल

-पारंपरिक सोने-चांदी की पायल

सदा से ही प्रचलन में रहने वाली सोने और चांदी से बनी पायल देखने में बहुत सुंदर लगती है. छोटे छोटे घुंघरुओं से युक्त इस पायल में कई बार मीना और नग आदि का भी प्रयोग किया जाता है. सोने की पायल की अपेक्षा महिलाएं डेली रूटीन में चांदी की पायल पहनना अधिक पसंद करतीं हैं. इस प्रकार की पायल शादी ब्याह में दुल्हन के लिए अधिक प्रयोग की जाती है.

-अजमेरी पायल

जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है यह राजस्थान की पारंपरिक पायल है. चांदी से बनी यह पायल आम पायलों से अधिक वजनीली और चौड़ी होती है. शहरी महिलाओं की अपेक्षा आदिवासी और जनजातीय महिलाओं में स्वयं को विवाहित प्रदर्शितत करने के लिए अजमेरी पायल को पहना जाता है.

ये भी पढ़ें- Fashion Tips: अपने दुपट्टे को बनाएं अपना स्टाइल स्टेटमेंट

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT