सरकार ऐसे लोगों पर नजर जमाए हुई है जिन्होनें उस वक्त बैंकों में बड़ी संख्या में रकम जमा कराई है. आयकर विभाग के रडार पर ऐसे 80,000 लोग हैं, जिन्होंने , नोटिस भेजने के बावजूद आयकर रिटर्न फाइल नहीं किया है. सीबीडीटी के चेयरमैन सुशील चंद्रा ने बताया कि 80 लाख ऐसे लोगों की भी पहचान की गई है जिन्होंने पिछले 3 साल के दौरान रिटर्न फाइल किया, लेकिन इस साल अभी तक फाइलिंग नहीं की है. उम्मीद है आने वाले दिनों में ये रिटर्न भरेंगे. उन्होंने आगे बताया कि इस साल अभी तक 6.02 करोड़ रिटर्न फाइल हुए हैं. इनमें 86 लाख नए टैक्सपेयर हैं. पिछले साल 6.85 करोड़ लोगों ने रिटर्न भरा था.

चंद्रा ने आगे कहा कि नोटबंदी से करदाता और आयकर संग्रह दोनों बढ़ाने में मदद मिली है. क्योंकि अब पैसे बैंकों में जमा हैं तो हमारे लिए ये जानना आसान है कि किसके पास कितने पैसे हैं. इसके अलावा ये भी पता लगेगा कि कितने लोगों ने बड़ी रकम जमा कराने के बावजूद रिटर्न नहीं भरा.

आपको बता दें कि अभी तक 5 लाख करोड़ रुपए प्रत्यक्ष कर संग्रह हुआ है, जबकि सरकारी बजट में 11.5 लाख करोड़ का लक्ष्य था. जिन क्षेत्रों में कलेक्शन कम है, वहां जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं. इन सब के अलावा उन लोगों पर भी नजर रखी जा रही है जिनका टीडीएस कटता है. उनसे समय पर टैक्स काटने और सरकार के पास जमा कराने संबंधी निर्देश दिए जा रहे हैं.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT