मौनसून में हेल्थ का ख्याल रखने की शुरूआत घर से होती है और अगर आपका घर हाइजीनिक होगा तो आप सालों साल हेल्दी रहेंगे. हाइजीन घर होने का मतलब ये नही की आप पूरे दिन भर घर की सफाई करें. पर अगर आप घर की सफाई कर रहीं हैं तो कुछ चीजें ऐसी होती हैं अगर वो जर्म फ्री रहेंगी तो आपका घर भी हाइजीनिक रहेगा. इसीलिए आज हम आपको घर को कैसे हाइजीनिक रखें इसके बारे में कुछ टिप्स बताएंगे, जिससे इस मौनसून ही नही सालों साल आपका घर हाइजीन फ्री रहेगा.

1. जर्म फ्री रखें किचन

किचन हमारी हेल्थ सही या खराब होने का पहला कारण होता है इसीलिए कोशिश करें की किचन को क्लीन रखें. किचन का तौलिया जिस से आप हाथ साफ करती हैं उस में बैक्टीरिया होने के चांसेज ज्यादा होते हैं. इसीलिए उसे हर दूसरे दिन बदलें और उसे धोने के बाद अच्छी तरह सुखा लें. किचन में जूठे बरतन न रहने दें, क्योंकि उनमें मौजूद बचे खाने में बैक्टीरिया सबसे जल्दी पनपते हैं. किचन में सब्जियां आदि काटने के लिए प्रयोग किए जाने वाले चौपिंग बोर्ड को रोज धोकर और सुखा कर रखें. नल के चारों ओर, सिंक व मोरी के आसपास नमी ज्यादा होती है.

ये भी पढ़ें- ‘फ्रेंडशिप डे’ पर अपने दोस्तों को दें ये ट्रेंडी गिफ्टस

2. बाथरूम की भी क्लीनिंग है जरूरी

बाथरूम में सफाई सही ढंग से न होने पर ये कईं बीमारियों का कारण बन सकता है. दागधब्बों रहित, चमकती टाइलों वाला बाथरूम वैसे तो साफ दिखता है. पर अगर माइक्रोस्कोप से देखा जाए तो वहां ढेरों बैक्टीरिया दिख जाएंगे. इसलिए परिवार का हर सदस्य अपना अलग तौलिया इस्तेमाल करे, क्योंकि एक ही तौलिए का सभी लोगों द्वारा इस्तेमाल स्किन प्रौब्लम्स हो सकती है. टूथब्रश को हमेशा कवर से ढक कर रखें. कौकरोच ब्रश के ब्रिसल्स पर मल से जीवाणु छोड़ सकते हैं. बाथरूम को गीला न छोड़ें, क्योंकि काई, फफूंदी, नमी, दरारें रोग फैलाने वाले कीटाणुओं को तेजी से आकर्षित करते हैं. साबुनदानी की भी नियमित सफाई करें. किनारों पर जमने वाले साबुन पर गंदगी की परत जमने लगती है, जिस पर बैक्टीरिया पैदा होते हैं.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT