आज व्हाट्सऐप वैसा नहीं है जैसा कि वो शुरुआती दिनों में हुआ करता था. वजह है एक के बाद एक नए फीचर्स का इसमें शामिल होते जाना और इसकी शुरुआत तब हुई जब फेसबुक ने व्हाट्सऐप को 16 बिलियन डौलर में खरीद लिया. इसी कड़ी में अब व्हाट्सऐप एक और बड़ा फीचर खुद में शामिल करने जा रहा है.

ये फीचर नजर आएगा व्हाट्सऐप पर

इस नए फीचर का नाम है बूमरैंग और ये लंबे समय से इंस्टाग्राम पर मौजूद रहा है. अगर आप इस फीचर से अनजान हैं तो बता दें कि इसके जरिए यूजर्स लूप वीडियो बनाते हैं. ये वीडियो चंद सेकेंड्स का होता है. जो कि शुरू से अंत और फिर अंत से शुरु तक कई बार प्ले होता है. खबरें ये भी आई हैं कि इस फीचर पर काम चल रहा है और सबसे पहले ये फीचर आईफोन यूजर्स को मिलेगा.

ये भी पढ़ें- Xiaomi और Realme आमने-सामने! जल्द पेश करेंगी दमदार स्मार्टफोन्स

आईओएस के बाद एंड्रौयड यूजर्स

आईओएस यूजर्स के बाद इसे जल्द एंड्रौयड यूजर्स के लिए भी जारी कर दिया जाएगा. बूमरैंग नाम का ये फीचर फोटो वीडियो शेयरिंग ऐप इंस्टाग्राम पर सबसे पहले जारी किया गया था. इंस्टाग्राम भी फेसबुक के स्वामित्व वाली ऐप है. बता दें कि इस फीचर को आप गूगल प्ले स्टोर से ‘बूमरैंग’ नाम की ऐप को डाउनलोड करके भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके अलावा ये आपको इंस्टाग्राम ऐप के कैमरा में जाकर तो मिल ही जाएगा. इस फीचर को ट्विटर वाइन से मुकाबले के लिए उतारा गया था. यह छह सेकेंड के वीडियो लूप्स बनाने में मदद करता है.

ऐसे कर पाएंगे इस्तेमाल

इस फीचर की जानकारी सबसे पहले WABetaInfo द्वारा जारी की गई थी. व्हाट्सऐप पर आने वाले तमाम नए फीचर्स की जानकारी पाने का ये सबसे भरोसेमंद स्त्रोत है. जानकारी मिली है कि ये फीचर वीडियो टाइप पैनल के जरिए मिलेगा. इसका मतलब है कि इस फीचर को आप वहीं पाएंगे जहां अभी आपको किसी भी वीडियो को शेयर करते वक्त वीडियो को GIF में बदलने का विकल्प मिलता है. इसे आप अपने व्हाट्सऐप कौन्टैक्ट के साथ-साथ स्टेटस में भी लगा पाएंगे. ध्यान रहे कि लूप वीडियो बनाने के लिए आपकी क्लिप की समस सीमा 7 सेकेंड से कम होनी चाहिए.

ये भी पढ़ें- Rakhi special: ऐसे सजाएं भाई के लिए राखी की थाली

इंस्टाग्राम ने अक्टूबर 2015 में बूमरैंग ऐप को पेश किया था. इसके बाद 2016 में इसे इंस्टाग्राम स्टोरी में जोड़ा गया. मालूम हो कि इस महीने सामने आने वाला ये दूसरा नया फीचर है. इससे पहले इस महीने की शुरुआत में व्हाट्सऐप ने अपने एंड्रौयड और आईओएस ऐप के लिए Frequently Forwarded मैसेज का लेबल रोलआउट किया था. इससे यूजर्स जान पाते हैं कि उन्हें मिला मैसेज 5 बार से ज्यादा बार फौरवर्ड किया गया है.

Tags:
COMMENT