रिमझिम बारिश सबके लिए खुशियाँ लाती है, क्योंकि भीषण गर्मी से राहत मानसून ही दिलाती है, पर इस मौसम में नमी की अधिकता की वजह से घरों और आसपास के सामानों में जंग और फफूंद की समस्या बढ़ जाती है, जिसका उपाय कर लेने से इस मौसम का आनंद अच्छी तरह से लिया जा सकता है. मुंबई जैसे शहर में जहाँ मानसूनी बरसात लगातार कुछ दिनों तक बरसता रहता है. चारों तरफ पानी ही पानी दिखाई पड़ता है. नदी तालाब सब उफान पर होते है, ऐसे में घर को मानसून की नमी से बचाने के लिए कुछ उपाय पहले से करना जरुरी होता है.

मसलन दीवारों से पानी की रिसाव को रोकना,  फर्नीचर के सामानों में फफूंद लगने से बचाना, घर की सतहों को गीलेपन से बचाना, कपड़ों को सही तरह से अलमारी में रखना, कमरों में फ्रेश सुगंध को फैलाना आदि कई है. इस बारें में गोदरेज लॉक्‍स एंड आर्किटेक्‍चरल फिटिंग्‍स एंड सिस्‍टम्‍स के बिजनेस हेड, श्री श्‍याम मोटवानी का कहना है कि बारिश में घरों को स्वच्छ और प्रदुषण रहित रखना हर किसी के लिए चुनौती होती है. लगातार की बारिश से नमी का प्रवेश घरों में होता रहता है,जिससे घर को बचाना आवश्यक है. खासकर इनदिनों जबकि पूरा देश कोरोना संक्रमण की वजह से घरों में कैद है. कुछ सुझाव निम्न है, 

1. बिजली के ढीले तारों को ठीक करना इस समय बहुत आवश्यक है, क्योंकि बारिश के दौरान ढीले तार  सुरक्षित हो सकते हैं, तेज हवा और भारी बारिश के कारण कई बार बिजली बंद भी करनी पड़ती है, क्योंकि गीले तार के चलते शॉर्ट सर्किट हो सकता है, घर या इमारत में आग लग सकती है, जान माल की क्षति हो सकती है, जो बेहद खतरनाक हो सकता है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT