सवाल-

मेरी उम्र 34 साल है. मैंने 1 साल पहले हेयर रिबौंडिंग करवाई थी. अब मेरे बाल फिर से ड्राई होने लगे हैं. कृपया बताएं कि कितनी बार हेयर रिबौंडिंग करवाई जा सकती है?

जवाब-

आजकल जापानी थरमल प्रक्रिया स्ट्रैटनिंग बालों को सुलझाने का सब से लोकप्रिय तरीका बन गया है, जिसे रिबौंडिंग भी कहते हैं. पूरी रिबौंडिंग प्रक्रिया का प्रभाव 1 साल तक रहता है. इस का असर नए उगे बालों पर भी महसूस किया जा सकता है. यह बताना जरूरी है कि बालों की रिबौंडिंग बालों को सुधारने का महंगा लेकिन असरदार तरीका है.

रिबौंडिंग

सबसे पहले बालों की क्वालिटी के बारे में जानकारी होनी चाहिए यानी बाल मोटे, पतले, मीडियम, रफ या फिर डैमेज हैं, क्योंकि जो स्ट्रेट थेरैपी क्रीम इस्तेमाल की जाती है वह बालों की क्वालिटी पर निर्भर करती है. यह जान लेने के बाद बालों में अच्छी तरह शैंपू करें और फिर ड्रायर से सुखा लें.

जब बाल सूख जाएं तो आयरनिंग करें. इस के बाद स्ट्रेट थेरैपी क्रीम सैक्शन बाई सैक्शन ऊपरी बालों की लटों से ले कर नीचे की लटों तक लगाएं. 15 से 20 मिनट बाद एक बाल को खींच कर देखें. यदि बाल स्प्रिंग की तरह घूम रहा हो तो समझ लें कि सल्फर बन्स टूट गए और अगर ऐसा नहीं हुआ तो 5-10 मिनट रुकें.

इस के बाद बालों को अच्छी तरह धो लें और मीडियम हीट पर ड्रायर कर लेयर बाई लेयर आयरनिंग करें. इस के तुरंत बाद न्यूट्रलाइजर सैक्शन बाई सैक्शन उसी प्रकार करें जिस प्रकार स्ट्रेट थेरैपीक्रीम अप्लाई की गई थी. इस दौरान बिलकुल भी न हिलें. 15-20 मिनट बाद बालों को अच्छी तरह धो लें. ठंडा ड्रायर करें. बाल सूख जाएं तो सीरम लगाएं और फिर मास्क.

पूरी जानकारी के लिए ये भी पढ़ें- तरीका रिबौंडिंग और स्मूदनिंग का

Tags:
COMMENT