अगर आप भी वर्किंग वुमन है तो सावधान रहिए. कभी-कभी औफिस के अफेयर भारी पड़ सकते हैं.अक्सर औफिस में ऐसे अफेयर तो हो ही जाते हैं किसी न किसी से. किसी का प्यार परवान चढ़ जाता है तो कोई बस टाइम पास के लिए ऐसा करता है साथ ही उसको फिर किसी चीज की परवाह नहीं होती और वो अपनी पर्सनल लाइफ और औफिस की लाइफ को मिक्स करने लगता है.ये बात केवल लड़की पर नहीं बल्कि लड़के पर भी लागू होती है. कई मर्द तो शादीशुदा होते हुए भी ऐसे चक्कर चलाते हैं,लेकिन ये अफेयर कभी-कभी आप पर बहुत भारी पड़ता है. इसका असर आपकी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ दोनों पर ही पड़ता है.

सबकी नज़र आप पर पड़ने लगती है

जब आप किसी से प्यार करने लगती हैं औफिस में तो आप कोई न कोई बहाने ढूंढने लगती हैं अपने पार्टनर से मिलने के लिए लेकिन ऐसे में जब आप दोनों ज्यादा साथ वक्त दिखते हैं तो लोगों की नज़रों में आने लगते हैं और सबका ध्यान आप दोनों पर कुछ ज्यादा ही जाने लगता है जो आपकी प्रोफेशनल लाइफ के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है.

ये भी पढ़ें- काउंसलिंग: सफल मैरिड लाइफ के लिए है जरूरी

काम पर ध्यान नहीं होता

जब आप कुछ ज्यादा ही प्यार में पड़ जाती हैं और हर पल बस मिलने की सोचती हैं. इसकी वजह से आप अपने काम पर ज्यादा ध्यान नहीं दे पाती हैं.फिर आप कुछ न कुछ गड़बड़ करने लगती लगती हैं या करने लगते हैं तो आपको बौस से डांट भी पड़ती है और ये तो फिर बिल्कुल भी आपकी प्रोफेशनल लाइफ के लिए अच्छा नहीं है.

टेंशन की जड़

आपके और आपके पार्टनर के बीच में अक्सर छोटे-मोटे झगड़ें भी होते हैं.कि तुम आज उस लड़के साथ क्या कर रहे थे या तुम उस लड़की के साथ क्या कर रही थी.या फिर अगर आपका पार्टनर किसी और पर ज्यादा ध्यान देने लगता है तो आपको टेंशन होने लगती है कि कहीं उसे कोई और तो पसंद नहीं आ गया है या कहीं वो मुझे धोखा तो नहीं दे रहा है. ऐसे में आपका मन काम में नहीं लगता और आप दिनभर टेंशन में रहती हैं. आप इस वक्त मानसिक तनाव से भी गुजरती हैं.

पार्टनर के दूर जाने का डर

अक्सर प्राइवेट जौब में कोई एक जगह नहीं टिकता है. उसको जहां पर भी कोई अच्छी कंपनी से ऑफर मिलता है तो वो वहां चला जाता है ऐसे में आपको डर भी रहता है कि आपका पार्टनर वहां जाकर आपका भूल जाएगा और आपका रिश्ता टूट जाएगा.उसे खोने का भी डर रहता है.

ये भी पढ़ें- DIWALI 2019: फेस्टिवल में हो घर-घर पार्टी

इनसिक्योर फील होना

जब आपका पार्टनर कहीं जाता है या किसी औऱ से बात करता है या किसी और के ज्यादा करीब होने लगता है या आपको वक्त कम देने लगता है तो आप इनसिक्योर भी फील करने लगती हैं.जो की सही भी है क्योंकि ये आपकी फिलिंग है जो अपने आप आप आ जाती है.

लोगों के गौसिप का मुद्दा बनना

जब हम किसी के साथ औफिस में रिलेशन में होते हैं तो अक्सर लोगों की गौसिप का मुद्दा बन जाते हैं और लोग हमारे पीठ पीछे हमारे बारें में बात करते हैं. ये बात पूरे औफिस में फैलने में देर नहीं लगती है और ये हमारें प्रोफेशनल लाइफ के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है.

Tags:
COMMENT