आजकल अच्छे रिश्ते तलाशने के लिए इंटरनेट पर फ्री मैट्रिमोनियल वेबसाइट्स का काफी इस्तेमाल कर रहे हैं. जहां इन वेबसाइट्स पर कुछ लोगों को अपनी इच्छा और शर्तों के अनुसार रिश्ते मिल जाते हैं वहीं कुछ लोगों के लिए ये साइट्स एक बुरा सपना साबित होती हैं. और इस तरह की घटना धोखा खाने वाले व्यक्ति के आर्थिक और मानसिक रूप से बहुत ज्यादा क्षति पहुंचाती है इसलिए बहुत जरूरी है कि सभी सुरक्षा के नियमों का पालन करा जाए और किसी भी इस तरह की धोखाधड़ी से बचा जाए. सौरव गोस्वामी, फाउंडर अल्ट्रा रिच मैच बताते हैं कि बहुत सी धोखाधड़ी करने वाले लोग साधारण लोगों को अपनी चपेट में लेते हैं. आए दिन ऐसे बहुत से केस आते रहते हैं जिनमें किसी ना किसी फेक प्रोफाइल के कारण धोखा मिला होता है.यदि आप कोई नया रिश्ता जोड़ने के लिए इन का इस्तेमाल कर रहे हैं तो रखें ध्यान .

1. बैकग्राउंड कैसा है

फेसबुक/ट्विटर/इंस्टाग्राम/लिंक्डइन आदि के माध्यम से किसी भी व्यक्ति से जुड़ने से पहले  उसका सोशल मीडिया अकाउंट्स का लिंक मांगें.  ताकि उस का बैकग्राउंड आसानी से चेक किया जा सके. उसका प्रोफ़ाइल कितना पुराना है और  कितनी वास्तविकता हैं,  सभी  चेक करें.

ये भी पढ़ें- देश की प्रगति की पोल खोलती ये घटनाएं

2. नो पर्सनल डिटेल

किसी भी औनलाइन प्लेटफ़ौर्म्स पर अपने बैंक अकाउंट की, या ईमेल आईडी आदि सांझा न  करें.

3. चालों से बचें

किसी को भी पैसा  किसी भी हाल में उधार ना दें चाहे लड़का हो या लड़की .उनकी चाल  और रणनीति समझे. इसलिए इस तरह की चालों से बचें.

4. हमेशा सतर्क रहें

कोई जरूरत से ज्यादा आत्मीयता दिखाएं अपनापन दिखाएं या आप से ज्यादा जानकारी लेना चाहे तो संभल जाए. उन्हें स्पष्ट रूप से कहें कि आप अभी इन सवालों का जवाब देने में सहज नहीं हैं.  सीमाएं तय करें.

5. भावनात्मक सबल

किसी भी क्षण बातों में आकर भावनात्मक कमजोर ना हो .वरना सामने वाला आपकी कमजोरी भांपकर उसका फायदा उठाना चाहेगा .और फिर शोषण कर सकता हैं. जिसके कारण उन्हें धोखाधड़ी से लेकर ब्लैकमेल तक करने का मौका मिल सकता है.

ये भी पढ़ें- औरतें खुद बेड़ियां पहन रही हैं

6. अकेले में ना मिले

पुरुषों या महिला लड़का और लड़की कोशिश करें कि कॉमन प्लेस जहां पर और भी लोगों वही अपनी डेट या मीटिंग पॉइंट रखें ताकि सामने वाला व्यक्ति मौके का फायदा ना उठा सके और आपको किसी भी हालत में परिस्थिति से समझौता करना ना पड़े.यदि दूसरा व्यक्ति आपकी शर्तों को मानने को तैयार नहीं होता तो तुरंत सतर्क हो जाएं.

7. इंस्टिन्क्ट्स

किसी भी गलत बात को अनदेखा करना ठीक नहीं है आगे चलकर परेशानी हो सकती है.यदि आपका मन आपको बार-बार सचेत कर रहा है तो उसकी सुने और उस व्यक्ति से दूरियां बना ले. स्वंय पर भरोसा रखें.  अपने इंस्टिन्क्ट्स की सुने.

 8. वैरिफाईड मैट्रिमोनियल्स

जीवन में शादी एक बहुत बड़ा फैसला होता है किसी भी प्रकार की जल्दबाजी ठीक नहीं आपका एक जरा भी गलत कदम आपको बहुत बड़ी समस्या में डाल सकता है इसलिए बेहतर है कि किसी अच्छे वेरीफाइड मेट्रोमोनियल से संपर्क करें तभी आगे की ओर कदम बढ़ाएं. इन साइड पर ही प्रोफाइल अपलोड करें की एक वेरीफाइड मैट्रिमोनियल साइट ही जिम्मेदारी लेती है अपने कस्टमर की प्राइवेसी की.

ये भी पढ़ें- भीड़तंत्र सरकार की शह पर नहीं

Tags:
COMMENT