धर्मगुरू अपनी पैनी नजर महिलाओं पर रख धर्म के पालन की जिम्मेदारी उन्हीं के कंधों पर रखते रहे हैं. वे जानते थे और जानते हैं कि धर्मभीरु महिलाएं जल्द उन के प्रवचनों को आत्मसात कर उन के दिखाए मार्ग पर चल पड़ती हैं. तभी तो धर्म के ठेकेदार महिलाओं को पतिपुत्र, पिताभाई की उम्र, स्वास्थ्य व उन के कुशलमंगल के पूजापाठ में उलझाने में पूरी तरह सफल रहे हैं.

Digital Plans
Print + Digital Plans

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT