शादी की रस्मों में चढ़ावे की शुरुआत लड़कालड़की की कुंडली मिलान से शुरू होती है. पहले लड़कालड़की तलाशने का काम पंडित करते थे. अब यह काम घर वालों को खुद करना होता है. चढ़ावे की रकम जजमान की हैसियत से तय होती है. इस के बाद भी हर रस्म में कम से कम चढ़ावा अब ₹11 सौ से शुरू होता है.

Digital Plans
Print + Digital Plans

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT