वरुण समुद्र के किनारे पत्थर पर बैठा विचारों में डूबा हुआ चुपचाप अंधेरे में समुद्र के ठाठें मारते पानी को घूर रहा था. समुद्र की लहरें जब किनारे से टकरातीं तो कुछ क्षण उस के विचारों का तारतम्य अवश्य टूटता मगर विचार थे कि बारबार उसे अपने पंजों में जकड़ लेते. वह सोच रहा था, आखिर, कैसे पार पाए वह अपने जीवन की इस छोटी सी साधारण लगने वाली भीषण समस्या से.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT