5 टिप्स जिससे बारिश में नुकसान होगा कम

By Grihshobha team | 10 August 2017
5 टिप्स जिससे बारिश में नुकसान होगा कम

बारिश का मौसम है. देश के ज्‍यादातर राज्‍य इस समय भारी बारिश की चपेट में हैं. दिल्‍ली मुंबई जैसे शहर बारिश से अस्‍त व्‍यस्‍त हो गए हैं. ग्रामीण इलाकों में वैसे तो बारिश अच्‍छी खेती के लिए जरूरी है लेकिन ज्‍यादा बारिश और जलभराव होने पर फसल खराब हो जाती है. इससे किसान को माली तौर पर खासा नुकसान होता है. इसके अलावा बारिश के मौसम में सड़कों पर जलभराव होने पर आपकी कार और घर को भी नुकसान हो सकता है. हम आपको बता रहे हैं पांच कामों के बारे में जिनके जरिए आप बारिश और बाढ़ से हो सकने वाले नुकसान से खुद को बचा सकते हैं.

घर के लिए कराएं प्रॉपर्टी इंश्‍योरेंस

बारिश के मौसम में ज्‍यादा बारिश होने पर कई बार घरों में भी पानी घुस जाता है. इसके अलावा बाढ़ में भी घर को नुकसान होने के साथ घर में रखे सामान मसलन टीवी फ्रिज और कूलर जैसे सामान को भी नुकसान हो सकता है. इससे बचने के लिए आपको प्रॉपर्टी इंश्‍योरेंस कराना चाहिए. प्रॉपर्टी इंश्‍योरेंस से आप बारिश की वजह से घर या सामान को होने वाले नुकसान के लिए क्‍लेम कर सकेंगे.

फायर इंश्‍योरेंस भी है जरूरी

बारिश के मौसम में शार्ट सर्किट होने की आशंका भी बढ़ जाती है. शार्ट सर्किट के कारण आग लगने से आपके मकान और दुकान को बड़ा नुकसान हो सकता है. ऐसे में आपको होम इंश्‍योरेंस के साथ मकान और दुकान के लिए फायर इंश्‍योरेंस भी लेना चाहिए. बीमा कंपनियां होम इंश्‍योरेंस के साथ फायर इंश्‍योरेंस भी लेने पर प्रीमियम काफी कम कर देती हैं.

मोटर इंश्‍योरेंस

बारिश के मौसम में सड़कें काफी खराब हो जाती हैं. इसके अलावा सड़कों पर जलभराव होने की वजह से आपकी कार को भी नुकसान हो सकता है. ऐसे में आपको अपनी कार के लिए मोटर इंश्‍योरेंस भी कराना चाहिए. इस मौसम में अचानक कार कहीं भी खराब हो सकती है. कई बीमा कंपनियां मोटर इंश्‍योरेंस कवर के तहत कॉल सेंटर की मदद से 24 घंटे मरम्‍मत के लिए मकैनिक की सेवाएं भी देती हैं. ऐसे में अगर कहीं अनजान जगह पर आपकी कार खराब हो गई तो यह सेवा आपके लिए काफी सुविधाजनक हो सकती है.

लाइफ इंश्‍योरेंस

कुछ वर्ष पहले केदारनाथ में आई भयंकर बाढ़ से बड़े पैमाने पर श्रद्धालुओं को जान माल का नुकसान हुआ था. इस तरह की कोई अनहोनी होने की सूरत के लिए लाइफ इंश्‍योरेंस कवर जरूर होना चाहिए. इससे कम से कम आपके परिवार को एक मु‍श्‍त रकम मिल जाएग और उनके लिए आपके न रहने की सूरत में आने वाली आर्थिक मुश्किलें कुछ कम हो सकती हैं.

फसल के लिए वेदर इंश्‍योरेंस

आमतौर पर बारिश खेती के लिए जरूरी है. लेकिन खेतों में पानी भर जाने या बाढ़ आने की सूरत में किसानों को बड़े पैमाने पर माली नुकसान उठाना पड़ता है. ऐसे में अगर प्रतिकूल मौसम से आप अपनी फसल को बचाना चाहता है तो वेदर इंश्‍योरेंस इसमें काफी कारगर हो सकता है.

बारिश का मौसम है. देश के ज्‍यादातर राज्‍य इस समय भारी बारिश की चपेट में हैं. दिल्‍ली मुंबई जैसे शहर बारिश से अस्‍त व्‍यस्‍त हो गए हैं. ग्रामीण इलाकों में वैसे तो बारिश अच्‍छी खेती के लिए जरूरी है लेकिन ज्‍यादा बारिश और जलभराव होने पर फसल खराब हो जाती है. इससे किसान को माली तौर पर खासा नुकसान होता है. इसके अलावा बारिश के मौसम में सड़कों पर जलभराव होने पर आपकी कार और घर को भी नुकसान हो सकता है. हम आपको बता रहे हैं पांच कामों के बारे में जिनके जरिए आप बारिश और बाढ़ से हो सकने वाले नुकसान से खुद को बचा सकते हैं.

घर के लिए कराएं प्रॉपर्टी इंश्‍योरेंस

बारिश के मौसम में ज्‍यादा बारिश होने पर कई बार घरों में भी पानी घुस जाता है. इसके अलावा बाढ़ में भी घर को नुकसान होने के साथ घर में रखे सामान मसलन टीवी फ्रिज और कूलर जैसे सामान को भी नुकसान हो सकता है. इससे बचने के लिए आपको प्रॉपर्टी इंश्‍योरेंस कराना चाहिए. प्रॉपर्टी इंश्‍योरेंस से आप बारिश की वजह से घर या सामान को होने वाले नुकसान के लिए क्‍लेम कर सकेंगे.

फायर इंश्‍योरेंस भी है जरूरी

बारिश के मौसम में शार्ट सर्किट होने की आशंका भी बढ़ जाती है. शार्ट सर्किट के कारण आग लगने से आपके मकान और दुकान को बड़ा नुकसान हो सकता है. ऐसे में आपको होम इंश्‍योरेंस के साथ मकान और दुकान के लिए फायर इंश्‍योरेंस भी लेना चाहिए. बीमा कंपनियां होम इंश्‍योरेंस के साथ फायर इंश्‍योरेंस भी लेने पर प्रीमियम काफी कम कर देती हैं.

मोटर इंश्‍योरेंस

बारिश के मौसम में सड़कें काफी खराब हो जाती हैं. इसके अलावा सड़कों पर जलभराव होने की वजह से आपकी कार को भी नुकसान हो सकता है. ऐसे में आपको अपनी कार के लिए मोटर इंश्‍योरेंस भी कराना चाहिए. इस मौसम में अचानक कार कहीं भी खराब हो सकती है. कई बीमा कंपनियां मोटर इंश्‍योरेंस कवर के तहत कॉल सेंटर की मदद से 24 घंटे मरम्‍मत के लिए मकैनिक की सेवाएं भी देती हैं. ऐसे में अगर कहीं अनजान जगह पर आपकी कार खराब हो गई तो यह सेवा आपके लिए काफी सुविधाजनक हो सकती है.

लाइफ इंश्‍योरेंस

कुछ वर्ष पहले केदारनाथ में आई भयंकर बाढ़ से बड़े पैमाने पर श्रद्धालुओं को जान माल का नुकसान हुआ था. इस तरह की कोई अनहोनी होने की सूरत के लिए लाइफ इंश्‍योरेंस कवर जरूर होना चाहिए. इससे कम से कम आपके परिवार को एक मु‍श्‍त रकम मिल जाएग और उनके लिए आपके न रहने की सूरत में आने वाली आर्थिक मुश्किलें कुछ कम हो सकती हैं.

फसल के लिए वेदर इंश्‍योरेंस

आमतौर पर बारिश खेती के लिए जरूरी है. लेकिन खेतों में पानी भर जाने या बाढ़ आने की सूरत में किसानों को बड़े पैमाने पर माली नुकसान उठाना पड़ता है. ऐसे में अगर प्रतिकूल मौसम से आप अपनी फसल को बचाना चाहता है तो वेदर इंश्‍योरेंस इसमें काफी कारगर हो सकता है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं
loading...
INSIDE GRIHSHOBHA
READER'S COMMENTS / अपने विचार पाठकों तक पहुचाएं

Comments

Add new comment