नेहा की सबसे बडी परेशानी यह थी कि वह जब भी अपने बालों में कंघी करती थी उसके बाल उलझकर टूट जाते थे. धीरे धीरे उसके बाल कम हो रहे थे. नेहा ने कई बार इसका इलाज कराया पर उसको कोई लाभ नही हुआ. नेहा ने इसके लिये कई बार हेयर एक्सपर्ट से बात भी की तब उसको ‘ओजोन हेयर ट्रीटमेंट’ के बारे में पता चला. नेहा को लगता था कि कही इससे बालों को कोई नुकसान न हो जाये. नेहा ने जब ओजोन ट्रीटमेंट कराया तो उसके बालों को बहुत लाभ हुआ और उनका झडना कम हो गया. नेहा ने ब्यूटी एक्सपर्ट पायल श्रीवास्तव से बात की. उन्होने बताया कि ‘ओजोन हेयर ट्रीटमेंट बालों की जडो को मजबूत बनाता है. यह एक मशीन के द्वारा किया जाता है. यह काम कभी भी अपने आप नही करना चाहिये. ओजोन ट्रीटमेंट एक्सपर्ट ब्यूटी क्लीनिक के द्वारा कराया जाना ही सही रहता है. आज छोटे बडे सभी शहरों में इस तरह की सुविधा मौजूद है.‘

ओजोन ट्रीटमेंट मशीनः 

ओजोन ट्रीटमेंट के जरीये बालो की जडों और स्कल्प में आक्सीजन को पहुचाया जाता है. ओजोन ट्रीटमेंट  में आक्सीजन में के अलावा बालों में विटामिन ए और डी को भी पहुचाया जाता है. ओजोन हाई फिकेवेंसी मशीन में एक होल्डर लगा होता है. जिसमें जरूरत के हिसाब से कांच के कई आकार वाले इलक्ट्रोड लगाये जाते है. इसके बाद मशीन से यूबी अल्ट्रावायलेट रेज निकाली जाती है. इनके जरीये बालों में 5 से 10 मिनट तक मसाज किया जाता है. मसाज के बाद बालों में अच्छे किस्म का तेल लगाकर छोड दिया जाता है. अगर बाल ड्राई है तो उसमें गर्म पानी में भिगो कर तौलिया लपेट कर बालों को स्टीम दी जाती है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT