सर्दी का मौसम भले ही और सभी मौसमों से बेहतर माना जाता है, लेकिन इस मौसम में त्वचा बहुत ड्राई और रूखीसूखी हो जाती है, जिस से वह बेजान नजर आने लगती है. इस मौसम में त्वचा को नमी यानी मौइश्चराइजिंग की खास जरूरत पड़ती है.

सर्दियों में अकसर नमी की कमी के कारण होंठ फटने लगते हैं. हाथपैरों की त्वचा में सफेद दरारें पड़ने लगती हैं, एडि़यां भी फटने लगती हैं और कभीकभी तो उन में से खून भी आने लगता है, जिस से काफी दर्द होता है. इसलिए इस मौसम में त्वचा को काफी देखभाल की जरूरत होती है. ऐसे में साधारण मैनीक्योरपैडीक्योर से कोई फायदा नहीं मिलता, बल्कि खास तरह के मैनीक्योरपैडीक्योर की जरूरत पड़ती है. इस के लिए आप कैंडल मैनीक्योरपैडीक्योर थेरैपी का इस्तेमाल कर सकती हैं. इस के इस्तेमाल से त्वचा नर्ममुलायम और चमकदार बनी रहेगी.

क्या है कैंडल मैनीक्योरपैडीक्योर

कैंडल मैनीक्योरपैडीक्योर ट्रीटमैंट में कुछ खास तरह के कैंडल्स यानी मोमबत्तियों को गला कर बनाया जाता है. यह एक नया तरीका है मैनीक्योरपैडीक्योर करने का.

कैसे करते हैं इस ट्रीटमैंट का प्रयोग

इस ट्रीटमैंट मैं कैंडल को गला कर इस का प्रयोग स्क्रबिंग और मसाज के लिए किया जाता है. इस ट्रीटमैंट से त्वचा से डैड स्किन निकाल दी जाती है. सर्दियों के मौसम में यह ट्रीटमैंट बहुत ही फायदेमंद होता है. इस के इस्तेमाल से हाथपैरों में नमी बरकरार रहती है.

कैसे बनाया जाता है इसे

इस कैंडल को बनाने के लिए वैक्स के अलावा इस में जोजोबा औयल, कोकोआ बटर, विटामिन ई और आवश्यक तेलों का प्रयोग होता है. ऐसी कैंडल आप को बाजार में आसानी से मिल जाएंगी और चाहें तो घर पर भी बना सकती हैं. इस के लिए नौर्मल कैंडल को गला कर उस में अपने मनपसंद औयल्स मिलाएं.

इस के फायदे

कैंडल मसाज त्वचा को पोषण देने, ऐक्सफौलिएट करने और त्वचा सैल्स के पुनर्जनन को प्रोत्साहित करने का शानदार तरीका है.

कैसे करें इस का इस्तेमाल

कैंडल थेरैपी के दौरान मैनीक्योरपैडीक्योर की शुरुआत साधारण तरीके से की जाती है. सब से पहले नाखूनों को काटना, फौइल, शेपिंग, क्यूटिकल्स पर क्रीम लगा कर इन की सफाई करना शामिल है. इस के बाद स्पैशल कैंडल को पिघलाया जाता है. तैयार वेक्स का इस्तेमाल स्क्रब के रूप में किया जाता है. इस से डैड स्किन निकल जाती है. फिर हौट टौवेल रैप से त्वचा को साफ किया जाता है.

इस के बाद क्रीम बनाने के लिए फिर से कैंडल को पिघलाया जाता है. इस वैक्स से बनी क्रीम का इस्तेमाल अच्छी तरह मौइश्चराइज करने के लिए किया जाता है. उस के बाद स्किन ब्राइटनिंग पैक का इस्तेमाल हाथों और पैरों के लिए किया जाता है. कैंडल थेरैपी का इस्तेमाल हाथपैरों को अतिरिक्त नमी प्रदान करेगा.

इस के अलावा पर्याप्त मात्रा में फल खाएं. ज्यादा से ज्यादा लिक्विड डाइट लें.

Tags:
COMMENT