रोमांटिक कॉमेडी फिल्म ‘‘मेरी प्यारी बिंदू’’ का अंत आम बॉलीवुड मसाला फिल्मों से एकदम अलग है, इसके अलावा इस फिल्म में कुछ भी नवीनता नहीं है. यह फिल्म बचपन की दोस्ती व एकतरफा प्यार की बात करती है.

फिल्म का नायक, जो कि लेखक और आधुनिक देवदास है, वह एक ही बात का रोना रोता रहता है कि ‘‘प्यार करना सब सिखाते हैं. पर प्यार को भुलाएं कैसे यह कोई नहीं सिखाता.’’

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
COMMENT