अक्सर लोग आर्किटेक्ट की मदद के लिए बिना ही कांट्रेक्टर के बताए नक्शे के मुताबिक घर का कंस्ट्रक्शन शुरू कर देते हैं. जिसका सबसे ज्यादा असर घर की सीढ़ियों पर दिखता है. अगर घर की सीढ़ियों में परेशानी होती है तो ये आने वाले दिनों में कईं परेशानियों का सबब बन सकता है. इसीलिए आज हम आपको सीढ़िया बनाते समय किन बातों का ध्यान रखें इसके बारे में कुछ आसान टिप्स बताएंगे, जिससे आपकी सीढ़ियों का डिजाइन और लुक दोनों बदल जाएगा.

1. हेड रूम का ध्यान रखना है जरूरी

सीढ़ियों  बनाते समय हेड रूम का ध्यान रखना जरूरी है, जिससे कि लंबे व्यक्तियों का सिर छत से न टकराए. अक्सर ऐसा होता है कि जल्दीबाजी में सीढ़ियों से उतरते हुए सिर अथवा माथा छत या छज्जे से टकरा जाता है और चोट लग जाती है.

2. सीढ़ियों का साइज का भी रखें ध्यान

सीढ़ियों को कम से कम 840 एमएम और ज्यादा से ज्यादा एक मीटर तक अपनी जरूरत के अनुसार रखना चाहिए. अच्छी सीढ़ी वही है जिसमें चढ़ते और उतरते वक्त आपको बहुत ज्यादा मेहनत न करनी पड़े. आम तौर पर किसी भी वयस्क का एक पग यानी स्टेप 600 एमएम यानी 2 फुट का होता है. इसको ध्यान में रखते हुए ही सीढ़ियों का निर्माण कराएं. यह ध्यान रखें कि सीढ़ियों पर ऊपर चढ़ते हुए दुगनी ऊर्जा लगानी पड़ती है, ऐसे में अगर सीढ़ियों ऊंची-नीची होंगी, उनमें सामंजस्य नहीं होगा तो दुर्घटना की संभावना बनी रहेगी.

ये भी पढ़ें- घर से जुड़ी इन 10 प्रौबल्मस के लिए बेस्ट है बर्फ

3. राइजर का रखें ध्यान

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT