घर की सफाई हर दिन करनी पड़ती हैं. महामारी के दौरान सफाई ने अपनी इम्पोर्टेंस को फिर से बढ़ा दिया है. हालांकि आप क्लीनिंग प्रोडक्ट्स से अनजाने में खुद को नुकसान पहुंचा सकते हैं. ये प्रोडक्ट्स गन्दगी साफ़ करने वाले साबुन, लांड्री डिटरजेंट या टॉयलेट क्लीनर हो सकते हैं.

ज्यादातर केसेस में क्लीनिंग प्रोडक्ट के महक के लिए 4,000 से ज्यादा केमिकल्स का मिश्रण होता है जो प्रोडक्ट की तेज गंध को अन्य केमिकल्स तत्व की गंध के साथ मास्क करने के लिए जोड़ा जाता है. जबकि इनमें से कुछ तत्व पेड़-पौधों से भी लिए जाते हैं. जैसे-फूल, मसाले, फल, लकड़ी, रेजिन और घास आदि. इन प्राकृतिक स्रोतों से निकाले गए लगभग 80-90% वोलाटाइल(वाष्पित) में आर्गेनिक कम्पाउंड शामिल होते हैं जैसे कि एल्कोहल और पेट्रोकेमिकल्स, जो हवा के साथ उड़ते हैं जिसकी वजह से इन्हें हम सूंघ सकते हैं.

Digital Plans
Print + Digital Plans

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT