14 February को Valentine Day के नाम से जाना जाता है .इस दिन को हम प्यार करने वालों का दिन कहते है और हर साल February को प्यार का महीना मानते है. पर क्या आप जानते है की Valentine Day क्यूँ मनाया जाता है? शायद आप में से कुछ जानते हों और अगर नहीं जानते तो आज हम आपको Valentine Day मानाने के पीछे का पूरा कारण बताएँगे .

दरअसल Valentine एक व्यक्ति का नाम था .जिनको लोग संत Valentine कहते थे.इस प्यार के दिन की कहानी की शुरुवात प्यार से भरी हुई नहीं है.

ये कहानी है एक निर्दयी राजा की और एक कृपालु संत Valentine की. इस दिन की शुरुआत होती है रोम की तीसरी सदी से जहां एक अत्याचारी राजा हुआ करता था . उसका नाम क्लाउडियस था . रोम  के राजा का यह मानना था कि एक अकेला सिपाही एक शादीशुदा सिपाही के मुकाबले ज्यादा प्रभावशाली होगा क्योंकि शादीशुदा सिपाही को हर वक्त इसी बात की चिंता लगी रहती है कि उसके मर जाने के बाद उसके परिवार का क्या होगा . इसी चिंता से वह जंग में अपनी पूरी एकाग्रता  नहीं बना पाता है. इसलिए क्लाउडियस राजा ने यह ऐलान किया कि उसके राज्य में कोई भी सिपाही शादी नहीं करेगा .राजा के इस फैसले से सभी सिपाही दुखी थे और उन्हें यह पता था कि यह फैसला गलत है . लेकिन राजा के डर से किसी ने भी उसका उल्लंघन करने की हिम्मत नहीं की.

ये भी पढ़ें- Valentine’s Special: Kiss Day पर जताएं प्यार लेकिन रखें इन बातों का ध्यान

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT