सब से अच्छे और गुणवत्ता वाले ब्यूटी प्रोडक्ट्स तथा जो हर जगह आसानी से ग्राहकों को मिलें, इसी सोच के साथ 2012 में सफल बैंकर से व्यवसायी वूमन बनीं फाल्गुनी नायर ने ‘नायका डौटकौम’ की स्थापना की. आज वे एक सफल महिला उद्यमी बन चुकी हैं.

फाल्गुनी ने इंडियन ब्यूटी इंडस्ट्री के क्षेत्र में बहुत योगदान दिया है, जिस की वजह से उन्हें 2018 में ‘फौर्च्यून इंडिया’ की ‘50 मोस्ट पावरफुल वूमन इन बिजनैस’ में शामिल किया गया.

ZeeTV-DS-GSH-March-Second-2

इस के अलावा उन्हें ‘वूमन अहैड अवार्ड’ सहित और कई प्रसिद्ध पुरस्कारों से नवाजा गया है. उन से हुई बातचीत के अंश प्रस्तुत हैं:

इस क्षेत्र में आने की प्रेरणा कहां से मिली?

जब मैं ट्रैवलिंग के दौरान मल्टीब्रैंड स्टोर जाती थी, तो हमेशा मुझे ग्राहकों और उन की जरूरत के ब्यूटी प्रोडक्ट्स के बीच एक फासला महसूस होता था, क्योंकि हर ग्राहक को एक स्थान पर सारे ब्यूटी प्रोडक्ट्स नहीं मिलते थे. मैं ने इसी पर काम किया, जिस में हमारी पूरी टीम ने सहयोग दिया. ग्राहकों को भी हमारा कौंसैप्ट पसंद आया और फिर ई कौमर्स की बढ़ती पौपुलैरिटी को देख कर हम ने औनलाइन बिक्री की योजना बनाई, जिस में एक ही प्लेटफार्म पर ग्राहकों को सारे ब्यूटी प्रोडक्ट्स पूरी जानकारी के साथ मिलें.

इस क्षेत्र में क्या चुनौतियां होती हैं?

इस में अपनी ग्रोथ को हमेशा आगे बढ़ाते रहने की जरूरत होती है. जैसेजैसे ग्राहक बढ़ते हैं, हमें अपनी भंडारण क्षमता को बढ़ाना, डिलिवरी को चुस्त बनाना और ग्राहकों के अनुभव को जानना बहुत जरूरी हो जाता है. मगर ऐसे किसी भी काम के लिए सही टीम और रिसोर्स का होना आवश्यक है.

आप के प्रोडक्ट्स बाकी ब्यूटी प्रोडक्ट्स की तुलना में कितने किफायती और गुणवत्ता वाले हैं?

प्रोडक्ट सही हो इस की जांच पूरी टीम करती है, क्योंकि मैं हमेशा हर उत्पाद की गुणवत्ता और शुद्धता पर विश्वास रखती हूं, इसलिए मैं ने हर प्रोडक्ट के साथ उस की पूरी जानकारी भी औनलाइन मुहैया करवाई है. इस के अलवा हर उत्पाद के रिव्यू को भी मैं देखती हूं. अभी हमारे साथ 1 हजार ब्रैंड जुड़े हैं और 1 लाख प्रोडक्ट्स औनलाइन उपलब्ध हैं.

हर महिला का काम करना कितना जरूरी है?

हर महिला को कुछ न कुछ करते रहना चाहिए. ‘नायका’ का अर्थ है ‘वन इन स्पौटलाइट.’ मुझे महिलाओं से कहना है कि वे अपने सपने को कभी देखना बंद न करें. अपनेआप को सामाजिक दायरे में कभी कैद न करें. हम महिलाओं की उन के उद्देश्य तक पहुंचने में मदद करते हैं. बाहर निकलने के लिए उन्हें सिर्फ साहस की जरूरत है. थोड़े ही दिनों बाद वे खुद देख सकती हैं कि उन्होंने जो अपने बारे में सोचा था, उस से भी कहीं अधिक वे कामयाब हुईं.

महिला सशक्तीकरण की दिशा में अपने व्यवसाय के जरीए क्याक्या करती हैं?

वूमन ऐंपावरमैंट को मनाने के लिए हम ने टीवी पर एक कैंपेन ‘हसीन तू हसीन दिन’ शुरू किया है. इस में दिखाया गया है कि महिलाओं ने कितनी सुंदरता के साथ स्टीरियोटाइप इमेज को छोड़ कर अपनी एक सफल दुनिया बनाई.

आज की महिला अपनी सुंदरता को ले कर कितनी जागरूक हैं?

आजकल महिलाएं नए उत्पाद को परखना पसंद करती हैं और ‘नायका’ ने इस दिशा में उन्हें संतुष्ट किया है. हम ग्राहक के विश्वास को मजबूती देते हैं और उसे प्रोडक्ट रिव्यू, गाइड, वीडियो और ब्लौग्स के द्वारा शिक्षा प्रदान करते हैं ताकि उन्हें सही स्किन टोन के साथ सही फाउंडेशन, फेस पाउडर, लिपस्टिक आदि का ज्ञान हो. ‘ब्यूटी बुक’ और ‘ब्यूटी नो हाऊ’ इसी दिशा में काम करते हैं.

काम के साथ अपने परिवार की देखभाल कैसे करती हैं?

मुझे हमेशा पूरे परिवार का सहयोग मिला है, जिस से काम में कोई मुश्किल नहीं आई. मेरी बेटी भी मेरे व्यवसाय में बहुत हाथ बंटाती है.मुझे उस के नए विचार भी मिल रहे हैं, जिस से मैं खुश हूं.

Zee-Strip-9-10

Tags:
COMMENT