कहानी के बाकी भाग पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पिछला भाग- लंबी कहानी: कुंजवन (भाग-7)

‘‘दादू, अब रुक जाओ. यह दोनों विदेशी आर्डर चले जाएं तब दोनों चलेंगे. कुछ नए पेड़पौधे और लगवाने हैं. मैं ‘ब्रह्मकमल लगवाना चाहती हूं.’ ’’

‘‘दोनों साथ आफिस छोड़ कैसे जा सकते हैं बेबी.’’

‘‘8-10 दिन में कुछ नहीं होगा. सभी तो पुराने स्टाफ है.’’

‘‘ठीक है हाथ का काम समाप्त हो तब चलेंगे. हां एक कहावत है ‘‘दुश्मन को कभी दुरबल मान कर मत चलना’’ इसे हमेशा याद रखना.

‘‘दादू, मैं सतर्क हूं.’’

‘‘बेटा एक प्रश्न मुझे बेचैन कर रहा है. जवाब दोगी?’’

‘‘पूछो दादू.’’

‘‘उस दिन तू ने कहा था कि सुकुमार को अपने जीवन से निकाल फेंकने का एक कारण है जो तू बता नहीं सकती. मैं समझता हूं कि वो कारण गंभीर ही होगा. प्रश्न यह है कि क्या सुकुमार को पता है कि वो कारण क्या है?’’

‘‘नहीं दादू. उसे कुछ नहीं पता तभी तो मेरे इस व्यवहार से वो इतना दुखी और आहत हुआ था.’’

‘‘सत्यानाश, अब तो बात बनने की कोई आशा नहीं.’’

‘‘भूल जाइए दादू जैसे ईश्वर मेरे हाथ में विवाह रेखा डालना भूल गए.’’

‘‘मेरी बच्ची.’’

एक हफ्ते बाद काम कर रही थी शिखा. उस का अपना मोबाइल बजा. आजकल यह बहुत कम बजता है. सहेलियों की शादी हो गई तो कुछ देश में कुछ विदेशों में घरपरिवार में व्यस्त हैं, दोस्त कुछ दिल्ली में ही हैं पर नौकरी या बिजनैस में पिल रहे हैं कुछ दिल्ली या देश के बाहर भी चले गए हैं. दादू से तो बैठ कर ही बात होती है. उस दिन के बाद से दुर्गा मौसी का भी फोन नहीं आता. फिर कौन? वो भी औफिस टाइम में इतना फालतू समय है किस के पास. मोबाइल उठा कर देखते ही मिजाज खराब हो गया ‘बंटी’. सोचा काट दे पर उत्सुकता हुई अब क्या मतलब है सुन ही लिया जाए. उस की आवाज सुन हैरान हुई. इतना भी निर्लज्ज हो सकता है कोई यह पता नहीं था उसे अपने को संयत कर शांत स्वर में कहा,

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

गृहशोभा डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...