बदलती जीवनशैली के साथसाथ हमारे खानपान की आदतों में भी बदलाव आया है. इस का सीधा असर हमारी सेहत के साथसाथ सुंदरता पर भी पड़ता है. यदि बालों की ही बात की जाए तो पहले जहां महिलाओं के बाल उन की एडि़यां छूते थे, वहीं अब उन का कमर तक होना ही बड़ी बात है. जिन महिलाओं ने स्टाइल के मद्देनजर बालों को छोटा करा रखा है, वे भी बालों में बाउंस और वौल्यूम न होने से परेशान हैं

आइए, जानते हैं कुछ ऐसे टिप्स जो बालों की सुंदरता और मजबूती बढ़ाने में मददगार साबित होंगे:

– यह अच्छी बात है कि आप बाजार में आ रहे हर नए उत्पाद की जानकारी रखती हैं. खासतौर पर बालों की देखभाल से जुड़े हर उत्पाद पर आप की विशेष नजर रहती है. लेकिन हर नए प्रोडक्ट का इस्तेमाल कर लेना अकलमंदी नहीं, क्योंकि यह जरूरी नहीं कि हर प्रोडक्ट आप के बालों की जरूरत के मुताबिक ही तैयार किया गया हो. यदि आप की आदत हर नए प्रोडक्ट को बिना हेयर स्पैशलिस्ट से पूछे इस्तेमाल करने की है, तो उसे तुरंत बदल लें, क्योंकि हो सकता है कि आप जिस समस्या के समाधान के लिए उत्पाद का इस्तेमाल कर रही हैं वह आप के बालों पर विपरीत असर करे.

– कई महिलाएं अपने बालों में रोज शैंपू करती हैं. दरअसल, कुछ महिलाओं की स्कैल्प में प्राकृतिक रूप से तेल बनता है, जिस से बाल चिपचिपे और चपटे से हो जाते हैं. ऐसे में उन का घनापन गायब हो जाता है. ज्यादातर शैंपुओं में मिले क्लीनिंग एजेंट भले ही स्कैल्प की तेल की परत को साफ कर दें, लेकिन वे बालों को कमजोर भी बनाते हैं. फिर एक समय ऐसा आता है कि बाल झड़ने लगते हैं. इसलिए रोज बालों को शैंपू करने की जगह हफ्ते में 2-3 दफा ही करें.

– यदि आप के बाल बहुत अधिक औयली हैं तो ड्राई शैंपू का उपयोग करें और औयली बालों के लिए मिलने वाला कंडीशनर ही लगाएं. कंडीशनर की जगह इनटैरम का भी इस्तेमाल कर सकती हैं. यह उत्पाद लगभग सभी अच्छे ब्रैंड्स में उपलब्ध है.

ब्यूटीशियन रेनू महेश्वरी के अनुसार जरूरत पड़ने पर ही बालों में कलर करें. यदि आप के बाल सफेद हो रहे हैं तो केवल रूट टचअप दें. पूरे बाल कलरन करें.

– यदि आप कामकाजी हैं तो जाहिर है आप को घर से बाहर निकलना पड़ता होगा. ऐसे में आप के बाल धूल, मिट्टी और धुएं के संपर्क में आते  होंगे, जिस से स्कैल्प में बैक्टीरिया पैदा हो जाते हैं और बाल झड़ने लगते हैं.

रेनू महेश्वरी बताती हैं कि कलर्ड बालों में कलर हेयर केयर शैंपू और कंडीशनर का इस्तेमाल करना चाहिए. इस से बालों में रंग भी ज्यादा दिनों तक टिकता है और उन पर कैमिकल का बुरा असर भी नहीं पड़ता है.

– हमेशा आईड्रेटिंग और स्मूदनिंग शैंपू का ही इस्तेमाल करें. बाजार में मिलने वाले कैमिकलबेस्ड शैंपू हो सकता है आप के बालों को तुरंत अच्छा लुक दे दें, लेकिन असल में ऐसे शैंपू बालों को नुकसान ही पहुंचाते हैं.

– बालों को लंबा करने के चक्कर में उन्हें कटवाने से न हिचकें. समय पर उन्हें ट्रिम जरूर करवाएं या फिर कोई अच्छा हेयर कट लें. दरअसल, बाल जब दोमुंहे हो जाते हैं तब आपस में उलझ कर टूटने लगते हैं. ऐसा न हो इस के लिए हर 3-4 महीने में बालों को ट्रिम जरूर करवाएं.

– बालों को घना बनाने के लिए सिर्फ उत्पाद ही नहीं, बल्कि आहार का भी सही होना जरूरी है. बालों को प्रोटीन की सब से अधिक जरूरत होती है. इसलिए प्रोटीन युक्त आहार जरूर लें, साथ ही आहार में विटामिन बी और आयरन भी जरूर शामिल करें. ये बालों की जड़ों को मजबूती प्रदान करते हैं.

Tags:
COMMENT