आजकल हेयर कलर का बड़ा क्रेज है. इस की खासीयत यह है कि यह कभी आउट औफ ट्रैंड नहीं रहता. अगर आप भी न्यू लुक के लिए पहली बार कलर करवाना चाहती हैं, लेकिन कौन सा कलर सही रहेगा या हेयर फौल तो नहीं होगा आदि सवाल मन में उठ रहे हैं तो हम यहां मेकअप ऐंड हेयर आर्टिस्ट पूनम चुग से बातचीत के आधार पर आप को पूरी जानकारी दे रहे हैं, जिस से आप की सारी उलझनें खत्म हो जाएंगी.

1. कैसे करें कलर का चुनाव

हेयर कलरिंग टीन और मैच्योर एजिंग दोनों के ऊपर की जा सकती है. टीनऐजिंग के लिए फैशन कलर का यूज किया जाता है. फैशन कलर को हम टाइम टु टाइम चेंज कर सकते हैं, जिस में रियल कलर से हट कर गोल्डन, ऐश, ब्लौन, रैड या कोई भी फैशन कलर बालों में किया जा सकता है. इस का यूज फैशन के रिगार्डिंग भी किया जाता है. मैच्योर हेयर्स यानी जिन के बाल ग्रे और व्हाइट होते हैं, उन के बालों में रियल कलर किया जाता है. रियल कलर के लिए ब्राउन, ब्लैक या डार्क ब्राउन कलर का इस्तेमाल किया जाता है.

2. बालों की केयर है जरूरी

अगर आप फैशन कलर करा रही हैं तो स्कैल्प से एकडेढ़ इंच ऊपर से कराएं. ऐसा करने से आप के बाल सेफ रहेंगे. कलर करवाने के बाद बालों की कंडीशनिंग बहुत अच्छी तरह की जानी चाहिए. इस के लिए अच्छे शैंपू, कंडीशनर, हेयर स्पा और औयलिंग की बहुत जरूरत होती है. ऐसा इसलिए किया जाता है, क्योंकि इस से बालों का नैचुरल कलर बना रहता है और वे खराब यानी डैमेज नहीं होते.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT