लेखिका- दीप्ति गुप्ता

जेल और एक्रेलिक नेल्स का जमाना गया . नाखूनों की दुनिया में "डिप पाउडर मैनिक्योर " एक नया और मजेदार ट्रेंड बनकर उभरा है.  यह मैनिक्योर हर उस लड़की के लिए उपयोगी है, जो अपने नाखूनों को सजाने के तमाम तरीके तलाशती है. यह कुछ अलग तरह से काम करता है. जैसा कि नाम से पता चलता है कि यह पाउडर के रूप में आता है. इन रंगीन कलर्स को ब्रश की मदद से नाखूनों पर लगाया जाता है. वैसे तो अब तक नाखूनों को मैनिक्योर करने के लिए जेल और साधारण नेल लैकर का इस्तेमाल होता था, लेकिन डिप पाउडर मैनिक्योर रेग्यूलर और एक्रिलिक मेनिक्योर के बीच का मैनिक्योर माना जाता है. इसमें सबसे पहले नाखूनों को ऑयल फ्री किया जाता है. इसके बाद जब ये पूरी तरह से साफ हो जाएं, तो बेस कोट अप्लाई करते हैं. . बेस कोट के ऊपर एक कलर्ड पाउडर की मदद से नाखूनों को कोट किया जाता है. पाउडर को एक नहीं बल्कि कई परतों में नाखूनों पर चढ़ाया जाता है, ताकि ये अच्छे से सेट हो सके. ये डिपिंग प्रोसेस बहुत अच्छा है और लगभग तीन हफ्ते तक इसका असर बना रहता है. डिप पाउडर मैनिक्योर  की सबसे अच्छी बात ये है कि इसका इस्तेमाल करने से नाखूनों को किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचता, बल्कि यह आपके नाखूनों को मजबूत बनाता है. यही वजह है, कि डिप पाउडर मैनिक्योर ने जेल मैनिक्योर की पॉपुलेरिटी को थोड़ा कम कर दिया है. तो आइए जानते क्या हैं डिप पाउडर मैनिक्योर और क्या है इसे करने का सही तरीका.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT