बचपन से ही अभिनेत्री बनने का सपना देखती आ रही निधि सिंह को अपने परिवार के सदस्यों को यह बात समझाने में काफी लंबा समय लग गया. परिणामतः उन्होने 25 वर्ष की उम्र में अभिनेत्री बनने के लिए औडीशन देने शुरू किए. 2014 में वेब सीरीज‘परमानेंट रूममेट’में तान्या नागपाल का किरदार निभाकर वह चर्चा में आ गयीं. उसके बाद निधि सिंह ने तकरीबन 14 वेब सीरीज के अलावा ‘दिल जंगली’, ‘ब्रजमोहन अमर रहे’और ‘बहुत हुआ सम्मान’ जैसी फिल्मों में अभिनय किया. इन दिनों ‘आल्ट बालाजी’ और ‘जी 5’पर स्ट्रीम हो रही वेब सीरीज ‘डार्क 7 व्हाइट’ में मुख्यमंत्री की बेटी देविना चैधरी उर्फ डेजी के किरदार में नजर आ रही हैं, जो एक कुशल राजनेता की भांति शतरंज की चाल चलते हुए मुख्यमंत्री बनती है. .

प्रस्तुत है निधि सिंह से हुर्ई एक्सक्लूसिब बातचीत के अंश. .

अभिनय को कैरियर बनाने का निर्णय काफी देर में लेने के पीछे कोई वजह रही?

-सच कहूं तो मैं हमेशा अभिनेत्री ही बनना चाहती थी. मुझे शुरू से ही पता था कि मुझे अभिनय ही करना है. लेकिन मेरी परवरिश गैर फिल्मी माहौल, प्रयागराज , इलहाबाद के एक अकादमिक परिवार में हुई है. तो समझ में नही आ रहा था कि मैं कैसे मुंबई पहुॅचकर अभिनेत्री बनूंगी. जब आप छोटे होते हैं, तो आप अपने माता पिता को समझा भी नहीं पाते कि आप अभिनय को लेकर कितना गंभीर हैं. मैंने विज्ञान से 12 वीं पास की, फिर सब चाहते थे कि मैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई करुं, पर मैने मास मीडिया की पढ़ाई करने की जिद पकड़ी , जिससे मुंबई आने का अवसर मिल जाए. मैं मास मीडिया में स्नातक की डिग्री की पढ़ाई करने के लिए मुंबई आयी. मुंबई पहुंचने के बाद मैने पाया कि यहां हर दूसरा इंसान फिल्मों में अभिनय करना चाहता है. स्नातक तक की पढ़ाई पूरी होने के बाद मैं एक विज्ञापन एजंसी में नौकरी करने लगी. पर मेरा मन मुझे लगातार अभिनय के लिए उकसा रहा था. अंततः मैंने एक दिन दिल की सुुनकर सहायक निर्देशक के तौर पर काम करने लगी. इसके अलावा थिएटर से जुड़ गयी. मेरा मकसद फिल्म माध्यम व अभिनय की बारीकियों को समझना था. क्योंकि मैने अभिनय की कोई ट्रेनिंग हासिल नहीं की थी. जबकि मैं देख रही थी कि लोग अभिनय में प्रशिक्षण हासिल करके आ रहे हैं. मुझे अच्छे लोग मिले, जिन्होने मुझे काम करने के अवसर प्रदान किए. लोगों ने मुझे कुछ नाटकों में अभिनय करने का अवसर प्रदान किया. हम बाहर से मुंबई आए थे. तो दो वक्त की रोटी के अलावा मकान का किराया सहित कई चीजों के लिए पैसे का दबाव था. जब मैंने वास्तव में औडीशन देने शुरू किए,  उस वक्त मेरी उम्र 25 वर्ष थी. जब मेरी उम्र 27 वर्ष थी, तब मेरे हाथ वेब सीरीज ‘‘परमानेंट रूम’’लगी. उससे पहले भी मैने कुछ एड, वेब सीरीज, म्यूजिक वीडियो किए थे, पर उनसे  कोई पहचान नही बनी. मगर ‘परमानेंट रूममेंट्स’ को मिली सफलता से लोगों ने मुझे भी बतौर कलाकार पहचाना.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

गृहशोभा डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...