बौलीवुड एक्ट्रेस शर्मिन सेहगल ने हीरामंडी सीरीज में उनके किरदार आलमजेब की आलोचना को लेकर कहा है कि लोग नेगेटिविटी पर ही रुक जाते हैं और पॉजिटिविटी पर बात ही नहीं करना चाहते हैं.

फिल्म को लेकर अदिति राव हैदरी की ज्यादा तारीफ की जी रही है जबकि शरमिन सेहगल फिल्ममेकर संजयलीला भंसाली की भांजी है. आदिति की तारीफ से शर्मिन को कही न कही तकलीफ हो रही है.

एक इंटरव्यू के दौरान शर्मिन ने कहा कि, “मैंने आलमजेब के किरदार को अपना सब कुछ दिया. हम लोग नेगेटिविटी पर रुक जाते हैं जबकि पॉजिटिविटी भी साथ रहती है.”

उन्होंने कहा कि एक ऐसा समय भी आया जब उन्होंने कई बातों पर ध्यान नहीं दिया था. लेकिन बाद में उन्हें एहसास हुआ कि वो बहुत सारे प्यार से वंछित रह गई हैं लेकिन अब वो इस ओर ध्यान देने लगी हैं.

उन्होंने कहा कि जब आप खुद को एक एक्टर की तरह रखते हैं तो आप आलोचना को पॉजिटिव रूप में फीडबैक की तरह देखते हैं और हर तरह से सोचना एक अच्छी बात है. लोगों के सुझाव आपको एक एक्टर के रूप में और बेहतर करते हैं. इससे आपको पता लगता है कि कितने लोगों तक आपकी पहुंच है. लोगों के सुझाव बहुत जरूरी भी होते हैं.

 

दरअसल इंटरव्यू के दौरान खराब एटिट्यूड और कमेंट्स करने के लिए शर्मिन की आलोचना की जा रही है. आपको बता दें कि फिल्म में शर्मिन के अलावा मनीषा कोईराला, शेखर सुमन, फरदीन खान, सोनाक्षी सिन्हा, अदिति राव हैदरी, संजीदा शेख, फरीदा जलाल और रिचा चड्ढ़ा भी महत्वपूर्ण रोल निभा रहे हैं.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
 
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
 
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...