साउथ की फिल्मों से अभिनय कैरियर को शुरू करने वाली एक्ट्रेस तापसी पन्नू आज सफल अभिनेत्रियों के श्रेणी में आ चुकी है, इसे करने में उसे काफी मेहनत लगी, पर उसने धैर्य नहीं हारी और जैसे-जैसे काम मिला करती गयी. सौफ्टवेयर इंजिनियर होने के बावजूद उसने अभिनय को अपना प्रोफेशन बनाया, जिसमें उसके परिवार वालों ने बहुत सहयोग दिया. वह अपने आपको खुशनसीब मानती है, क्योंकि वह आउटसाइडर होने पर भी उसके लिए कहानियां लिखी गयी और उसे कुछ नया करने का मौका मिलता गया. आज वह बड़े-बड़े निर्माता निर्देशकों की पहली पसंद बन चुकी है. उसकी फिल्म ‘सांड की आंख’ के प्रमोशन पर उससे मिलना हुआ आइये जाने उनकी कहानी उन्ही की जुबानी.

सवाल-आपने अपने से आधे से अधिक उम्र की महिला की भूमिका निभाई है, कैसे किया? कितनी मेहनत की है?

इस फिल्म को हां करने के बाद मैंने समझ लिया था कि शूटिंग के 2 महीने पहले से मुझे इसकी तैयारी करनी पड़ेगी, क्योंकि अगर मैं 20 साल की लड़की की भूमिका निभाती हूं, तो मुझे उसे करने में आसानी रहती है. मैंने उस जिंदगी को जिया है और मुझे उसका अनुभव है. वही अगर मैं 60 साल की भूमिका निभाती हूं , तो मुझे उसकी जानकारी नहीं है. उसे करना मेरे लिए चुनौती होगी और मैंने किया. इसमें पश्चिमी उत्तर प्रदेश की बोली वहां की रहन-सहन और बौडी लैंग्वेज को पूरी तरह से मैंने सीखा है. मैंने इसमें अपना खून पसीना बहाकर मेहनत की है.

ये भी पढ़ें- 2 साल बाद ‘तारक मेहता’ में ऐसे होगी दयाबेन की वापसी, सामने आया Promo

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT