बच्चों की हाइट में रुकावट आना माता-पिता के लिए चिंता का कारण बन जाता है. वैसे तो लड़कों की हाइट 25 वर्ष तक और लड़कियों की हाइट 18 वर्ष तक बढ़ती है. ज़्यादातर बच्चों की हाइट उनके माता-पिता के अनुसार ही होती है जिसे हम जेनेटिक बोलते है, लेकिन कई बार बच्चों की हाइट माता -पिता जितनी भी नहीं बढ़ती इसकी वजह हार्मोन का ग्रोथ न होना हो सकता है.
कम हाइट के वजह से बच्चों के व्यवहार में भी बदलाव देखने को मिलता है. कई बार कम हाइट वाला बच्चा बाकी बच्चों के सामने खुद को कमजोर समझने लगता है, ऐसा देखा भी गया है जिन बच्चों की हाइट कम होती है उन में चिढ़चिढ़ापन ज्यादा आ जाता है. अगर आप को भी अपने बच्चों के हाइट में ग्रोथ नजर नहीं आ रही तो आप इन टिप्स को जरूर अपनाएं.

एक्सरसाइज है जरूरी

बच्चों को सुबह एक्सरसाइज करवाना बहुत जरूरी है. हालांकि बच्चे सुबह उठना पसंद नहीं करते, लेकिन बच्चों के लिए आप को भी थोड़ी सी मेहनत करनी पड़ेगी. एक्सरसाइज में आप बच्चों से स्ट्रेचिंग, जमपिंग और दौड़ लगवा सकते है. बच्चों के अच्छी ग्रोथ के लिए साइकलिंग भी जरूरी है. बच्चों से सुबह शाम साइकलिंग जरूर करवाएं.

ये भी पढ़ें- मौनसून में आंखों की बीमारी से बचना है जरूरी

खाने पर रखें खास ध्यान

अगर बच्चों का खानपान सही हो तो बच्चों की हाइट भी बढ़ती है और वह हेल्दी के साथ एक्टिव भी नजर आते है. इसलिए बचपन से ही बच्चों का खानपान का खास ध्यान रखना चाहिए. आइए जानते है बच्चों के ग्रोथ के लिए उन्हें क्या खिलाना चाहिए.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT