एक वक्त था जब बेहद कम उम्र में लड़कियों की शादी कर दी जाती थी. आज लोगों की सोच में बदलाव देखा जा रहा है. बहुत से लोग अब लड़की के 30 की उम्र के बाद शादी कर रहे हैं. लड़कियों की प्राथमिकता शादी नहीं रही. वो अपने करियर के लिए ज्यादा फोकस हैं. यही कारण है कि बच्चा होते होते लड़की की उम्र 32-34 हो जाती है. पर एक महिला की सेहत लिहाज से ये अच्छा नहीं है.

बढ़ती उम्र के साथ ही गर्भवती होने और बच्चे को जन्म देने से संबंधी कई समस्याएं हो जाती हैं. जिसमें मां और बच्चे दोनों को खतरा है. इस खबर में हम आपको बताएंगे कि अगर आप 30 की उम्र के बाद मां बनने की प्लानिंग कर रही हैं तो आपको क्या परेशानियां हो सकती हैं.

इसी उम्र में शुगर का खतरा तेज रहता है. प्रेग्नेंसी में इस परेशानी का होना बच्चे और मां, दोनों के लिए काफी खतरनाक है. इस स्थिति में अगर बच्चे का जन्म सर्जरी से होता है तो इसमें जोखिम और ज्यादा बढ़ जाता है.

35 की उम्र में गर्भ धारण करना काफी मुश्किल होता है. उम्र के इस पड़ाव के बाद गर्भ धारण करने पर गर्भपात होने की आशंका बहुत अधिक बढ़ जाती है.

आपको बता दें कि 35 से ज्यादा की उम्र में नार्मल डिलिवरी होने की संभावना काफी कम हो जाती है. ऐसे में सर्जरी आप की मजबूरी हो जाती है. अगर आप 35 की उम्र के पार हैं और बेबी प्लान कर रही हैं तो डाक्टर से जरूर संपर्क करें.

इस उम्र में प्रेग्नेंसी में महिलाओं में उच्च रक्तचाप की समस्या होने का खतरा काफी बढ़ जाता है. हाई ब्लड प्रेशर की स्थिति में मां और बच्चे, दोनों का नुकसान है.

35 की उम्र के बाद प्रेग्नेंसी में भ्रूण का विकास समान्य नहीं हो पाता. इसके कारण बच्चे में विकार होने की संभावना तेज हो जाती है.

Tags:
COMMENT