पन्द्रहवीं शताब्दी में अमेरिका के रोलको द्वीप पर सबसे पहले लाल-लाल रंग के टमाटरों को देखकर लोगों ने इसे एक जहरीला फल समझा था. इसका खाने के रूप में इस्तेमाल काफी बाद में हुआ. यूरोप के लोग तो टमाटर के पेड़ अपने बगीचों में सिर्फ सजावट के लिए लगाते थे, मगर जब धीरे-धीरे लोगों ने इसका खाने में इस्तेमाल शुरू किया, तब इसे सेहत और सौन्दर्य की दृष्टि से वरदान समझा जाने लगा. आज टमाटर के बिना हम खाना बनाने की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं. टोमैटो कैचअप के बिना तो सैंडविच, पीजा, बर्गर, नूडल्स सब फीके-फीके हैं.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT