जाड़े के मौसम में अकसर जिन की इम्यूनिटी कमजोर होती है वे बीमार पड़ जाते हैं. इस मौसम में पौल्यूशन भी अपने चरम पर होता है. हवाओं की ठंडक अलग शरीर के काम करने की क्षमता घटा देती है. ऐसे में इम्यूनिटी का मजबूत होना बहुत जरूरी है.

क्या है इम्यूनिटी

दरअसल, इम्यूनिटी हमारे शरीर में मौजूद टौक्सिंस से लड़ने की क्षमता होती है. शरीर में टौक्सिन के बहुत सारे कारण हो सकते हैं, मसलन बैक्टीरिया, वायरस या फिर अन्य नुकसानदेह पैरासाइट्स. शरीर के आसपास बहुत सारे बैक्टीरिया और वायरस मौजूद होते हैं जो हमें कई तरह की बीमारियों से ग्रस्त कर देते हैं. वायु प्रदूषण की वजह से फेफड़े और सांस से जुड़ी समस्याएं भी परेशान कर सकती हैं.

शरीर को इन बाहरी संक्रमणों, प्रदूषण जनित तकलीफों और बीमारियों से बचा कर रखने के लिए शरीर के अंदर एक रक्षा प्रणाली होती है जिसे इम्यून सिस्टम या रोग प्रतिरोधक क्षमता कहते हैं. अगर आप की इम्यूनिटी मजबूत है तो आप बदलते मौसम और प्रदूषण के कारण होने वाली बीमारियों से बचे रहते हैं.

आइए, जानते हैं इम्यूनिटी मजबूत करने के तरीकों के बारे में:

शारीरिक सक्रियता है जरूरी

खुद को स्वस्थ रखने और अपनी इम्यूनिटी को सुधारने के लिए शरीर का सक्रिय रहना जरूरी है. शारीरिक गतिविधि से ऐंडोर्फिन नामक हारमोन का स्राव होता है जिस से तनाव दूर होता है, मन आनंदित रहता है और शरीर की क्षमता बढ़ती है. जब आप काम नहीं करते हैं और भूख लगने पर खाना खा लेते हैं तो आप पेट से जुड़े बहुत सारे रोगों से ग्रस्त हो जाते हैं. शारीरिक निष्क्रियता आप के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी प्रभावित करती है. इस से बचने के लिए नियमित व्यायाम को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT