आजकल बर्तन धोने के लिए मार्केट में कईं प्रौडक्ट आ गए हैं, जिनमें बर्तन धोने के लिए गल्व्स या दस्ताने भी हैं, लेकिन आज भी कुछ लोग ऐसे हैं जो बिना गल्व्स या दस्ताने के बर्तन धोना पसंद करते हैं. पर जरुरी है कि हमें बिना दस्ताने के बर्तन धोते समय कुछ चीजों का ख्याल रखना चाहिए. कईं बार बर्तनों को साफ करने के बावजूद बर्तनों गंदे रह जाते हैं, जिसके कारण कईं बीमारियां और इंफेक्शन होने का खतरा बन जाता है. इसीलिए आज हम आपको बर्तन धोते समय किन चीजों का ध्यान रखें इसके बारे में बताएंगे.

  1. बर्तन कर लें एक जगह इक्ट्ठा

बर्तनों को धोने से पहले एक जगह इक्‍टट्ठा कर लें. बार-बार भाग-दौड़ न करें. बाकी सारी चीजें जैसे- साबुन, स्‍क्रबर और तौलिया को भी रख लें.

  1. नाजुक बर्तन पहले धुलें

भारी या बड़े बर्तनों को धोने से पहले हल्‍के या क्रौकरी वाले बर्तन पहले धोयें. वरना उनके टूटने का डर बना रहता है. चम्‍मचें, कांटे और छुरियां भी पहले धो लें.

ये भी पढ़ें- बारिश के मौसम में ऐसे सुखाएं कपड़े

  1. चिकनाई वाले बर्तनों को भिगोएं

बर्तनों को धोने से पहले चिपकने वाले बर्तनों को एक जगह रख कर उनमें गर्म पानी और साबुन डाल दें, ताकि उनकी चिकनाई छूट जाए और उन्‍हें धोने में ज्‍यादा मशक्‍कत न करनी पड़े.

  1. बर्तनों को धोएं बारी-बारी

बर्तनों को मांजने के बाद उन्‍हें छोटे से लेकर बड़े के क्रम में धोना शुरू करें. इससे पानी की खपत कम होगी और वो अच्‍छे से साफ भी हो जाएंगे.

  1. बर्तनों को सुखाना है जरूरी

बर्तनों को धोने के बाद एक साथ घुसाकर न रखें बल्कि डलिया आदि में अलग-अलग रखें. बाद में उन्‍हें तौलिया से पोंछकर सूखने रख दें. अगर बर्तन अच्‍छी तरह नहीं सूखते हैं तो पेट में इंफेक्शन होने का खतरा होता है.

ये भी पढ़ें- 5 टिप्स: घर से ऐसे भगाएं खटमल

Tags:
COMMENT